मुसाफि रखाना (अमेठी): क्षेत्र के दर्जन भर गावों में बीते एक पखवाड़े से जलभराव की समस्या को लेकर स्थानीय प्रशासन हलकान रहा। मामले को लेकर दो जनपदों का प्रशासन कई बार जलनिकासी की व्यवस्था सड़क के किनारे नाला खोदवाकर करवाई थी, लेकिन खड़सा गाव के लोगों ने हयूमपाइप क्षतिग्रस्त कर प्रशासन द्वारा की गई जलनिकासी व्यवस्था में व्यवधान कर दिया था।

मामले को लेकर ग्राम प्रधान समेत कई अन्य के ऊपर लोक संपत्ति अधिनियम एक्ट अंतर्गत मुकदमा दर्ज है। शनिवार की रात एसडीएम देवीदयाल वर्मा व कोतवाल विश्वनाथ यादव भारी पुलिस बल के साथ राष्ट्रीय राजमार्ग लखनऊ-वाराणसी के किनारे जेसीबी मशीन की मदद से नाला खोदकर पुन: हयूम पाइप डालकर जलनिकासी व्यवस्था दुरुस्त की। प्रशासन की मानें तो डूब रहे गावों तिवारीपुर, नाथूपुर, मदनपुर, कस्थुनी पूरब, चकदोहरी, बड़ी बगिया, बगिया कैलाश, पूरे अहलाद, पूरे पासिन, उत्तरपाटी, पूरे बखत, पूरे मिश्रान आदि गावों में जलनिकासी व्यवस्था बहाल होने से ग्रामीणों को राहत मिली है।

Posted By: Jagran