अमेठी : निर्वाचन आयोग के आदेश पर जिला प्रशासन ने दीवारों में की गई वाल राइटिग के साथ ही पोस्टर, बैनर को उतरवा दिया। अब तक 15 हजार 727 प्रचार सामग्री सार्वजनिक स्थानों से हटवाई जा चुकी है। चुनाव संबंधी पोस्टर, बैनर लगाने से पहले निर्वाचन विभाग से अनुमति लेना अनिवार्य कर दिया गया है।

प्रशासन ने जगह-जगह लगे पोस्टर व बैनर के साथ ही वाल पेंटिग पर कार्रवाई तेज कर दी है। एक सप्ताह में जिला प्रशासन ने 6497 बैनर के साथ ही 7626 पोस्टर उतरवाए हैं। वहीं 1442 स्थानों पर कराए गए वाल पेंटिग को भी मिटवा दिया गया है। जिला निर्वाचन अधिकारी राकेश कुमार मिश्र के आदेश पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी सुशील प्रताप सिंह ने कड़ाई पुलिस प्रशासन को लेकर अब तक 15 हजार 727 पोस्टर, बैनर व वाल पेंटिग पर कार्रवाई की गई है। उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिन स्थानों पर अभी भी बैनर, पोस्टर व वाल पेंटिग नहीं हटाए गए हैं। उनको हटाने के लिए तहसील प्रशासन को कड़ाई से निर्देश दिया गया है। आदर्श आचार संहिता का उलंघन न हो सके इसके लिए तत्काल कार्रवाई किए जाने का आदेश दिया है। चुनाव आयोग द्वारा जारी दिशा निर्देश के अनुसार ही अब पोस्टर, बैनर लगाए जा सकेंगे।

तहसीलवार की गई कार्रवाई

तहसील वाल पेंटिग पोस्टर बैनर

तिलोई 580 2887 1531

मुसाफिरखाना 26 826 422

गौरीगंज 706 3032 1745

अमेठी 130 881 2799

कुल 1442 7626 6497

---

26 वाहनों से उतरवाए गए झंडे व काली फिल्म

यातायात प्रभारी अजय सिंह तोमर ने बताया कि आदर्श आचार संहिता का पालन कराने के लिए वाहनों की जांच की गई। जांच के दौरान नौ वाहनों पर लगे राजनैतिक दलों के झंडे व बैनर उतरवाए गए। इसके साथ ही 13 ई-रिक्शा पर लगे कवर को भी उतारा गया। चार वाहनों से काली फिल्म उतारकर दोबारा न लगाने की नसीहत दी गई।

Edited By: Jagran