अंबेडकरनगर : आसपास के कई जिलों में बाइक चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले अंतरजनपदीय बाइक चोर गिरोह के चार सदस्यों को इलाकाई पुलिस ने दबोचने में सफलता हासिल की है। आरोपितों के पास से पुलिस ने चार बाइक बरामद की है। वहीं अंधेरे का फायदा उठाकर गिरोह के दो सदस्य पुलिस को चकमा देकर भागने में सफल रहे। पकड़े गए आरोपित आजमगढ़ जनपद के बताए जा रहे हैं। पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर चारों को जेल भेज दिया है।

बीते शनिवार की शाम एसआइ हीरालाल यादव, रामसुंदर, शराफत हुसैन, रणजीत ¨सह, हमराही देवेंद्र गिरि, अजय यादव, आलोक कुमार, राजनरायन तथा नर¨सह यादव क्षेत्र भ्रमण के लिए निकले थे। इसी बीच मुखबिर से सूचना मिली कि महाराजगंज थाने की तरफ से चोरी की मोटर साइकिलों को लेकर छह लुटेरे राजेसुल्तानपुर की तरफ जा रहे हैं। इसके बाद इलाकाई पुलिस तत्काल हरकत में आ गई और चोरों को दबोचने के लिए जाल बिछा दिया गया। त्रिमुहानी पुल से पहले लुटेरों का इंतजार कर रही पुलिस को महराजगंज की तरफ से चार मोटर साइकिल आने की लाइट दिखाई दी। पुलिस ने घेराबंदी कर चार बाइक समेत चार आरोपितों को दबोच लिया। इस बीच अंधेरे का फायदा उठाकर गिरोह के दो सदस्य भागने में सफल रहे। पकड़े गए आरोपितों की पहचान मनोज कुमार पुत्र झिनकू, संजय पुत्र किशुन निवासीगण बड़की पंडौली, साहल सैय्यद पुत्र पीर मोहम्मद निवासी सिकंदरपुर महाराजगंज आजमगढ़, गंगाराम पुत्र सम्पत निवासी पिपरी थाना कप्तानपुर आजमगढ़ के रूप में हुई। फरार लुटेरों की पहचान लक्की पुत्र राजमल निवासी बड़ी पंडौली व समीर मिर्जा उर्फ राजू पुत्र तबरेज निवासी ताकिरगंज कस्बा बिलरियागंज आजमगढ़ के तौर पर पुलिस ने किया है। पकड़े गए लुटेरों ने बताया कि मुक्ति धाम दोहरीघाट मऊ व चुंगी हास्पिटल आजमगढ़, आजमगढ़ चेहरी से मोटर साइकिल चुराई गई थीं। थानाध्यक्ष अशोक कुमार सरोज ने बताया कि गिरफ्तार आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर चारों को जेल भेज दिया गया है।

Posted By: Jagran