प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज सिटी में रहकर बीएड में एडमीशन की तैयारी कर रहे 25 साल के अनिल यादव की लाश गुरुवार सुबह प्रतापगढ़ में कोहंड़ौर रेलवे स्टेशन के निकट पेड़ पर फंदे से लटकी मिली तो लोग स्तब्ध रह गए। ऐसा कैसे हुआ, यह सवाल बना हुआ है। परिवार के लोग बदहवास हैं तो पुलिस भी अवाक है कि आखिर यह क्या हुआ। उसने खुद फांसी लगाई या फिर कुछ और रहस्य है।

प्रयागराज से रवाना होने के बाद नहीं पहुंचा घर तो खोजते रहे स्वजन

प्रतापगढ़ जनपद में क॑धई क्षेत्र के साल्ही पुर कंजास के प्रधान हरि शंकर का भतीजा 25 वर्षीय अनिल यादव पुत्र रमाशंकर यादव प्रयागराज में रहकर बीएड की तैयारी कर रहा था। पता चला है कि वह बुधवार को दोपहर करीब साढ़े तीन बजे प्रयागराज से प्रतापगढ़ के लिए निकला था लेकिन घर नहीं पहुंचा। उसने फोन पर बताया था कि वह घर के लिए रवाना हो गया है लेकिन रात तक वह नहीं पहुंचा तो परिवार के लोगों ने खोजबीन शुरू की।

सुबह तक कुछ पता नहीं चला और फोन पर भी उससे बात नहीं हो पा रही थी। इसी बीच गुरुवार सुबह प्रतापगढ़ में कोह॑डौर रेलवे स्टेशन के पास एक पेड की डाल में रस्सी के फंदे से युवक का शव लटका देख लोग सन्न रह गए। खबर फैली तो वहां भीड़ लग गई। पुलिस पहुंची और कपड़े की तलाशी ली तो कागजातों से पता चला कि मृतक अनिल यादव है। फिर पुलिस ने खोजबीन में भटक रहे परिवार के लोगों को जानकारी दी। खबर पाकर पिता रमाशंकर समेत कई लोग आ गए। पता चला कि रमाशंकर कोई निजी गाड़ी चलाकर परिवार का गुजारा करते हैं। अनिल के साथ क्या हुआ था, क्या उसने खुद फांसी लगा ली, अगर आत्महत्या की तो वजह क्या है, फिलहाल इन सवालों के जवाब मिलने बाकी हैं।

Edited By: Ankur Tripathi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट