प्रयागराज,जेएनएन। जिले में कैंट थाना क्षेत्र के मऊ सरैया झोपड़ पट्टी में रहने वाले 18 वर्षीय हर्ष कुमार उर्फ गोलू ने सोमवार सुबह फांसी लगाकर जान दे दी । पुलिस के मुताबिक वजह सिर्फ यह थी कि उसने पिता से मोबाइल दिलाने के कहा था। पिता ने लॉकडाउन में आर्थिक तंगी होने का हवाले देते हुए मोबाइल दिलाने में असमर्थता जताई थी। यह बात हर्ष को इतनी नागवार लगी कि उसने ऐसा कदम उठा लिया।

घर में मचा है कोहराम

 हर्ष ने सोमवार सुबह करीब दस बजे गमछे का फंदा बनाकर पंखे के चुल्ले से लटक गया। कुछ देर बाद घर वालों को पता चला तो वह परेशान हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन की और शव को पोस्टमार्टम हाउस भेजा। इंस्पेक्टर कैन्ट चंद्रभान सिंह ने बताया कि मोबाइल ना मिलने पर युवक ने फांसी लगाकर जान दी है। हर्ष भी मजदूरी करता था। प्रमोद ने उसे बचपन मे गोद लिया था। गोलू के आत्मघाती कदम से परिवार में मातम छा गया।

ब्वॉयफ्रेंड की पिटाई के विरोध पर युवती से दुष्कर्म

  धूमनगंज इलाके में एक युवती से दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपित जिकरान को गिरफ्तार कर लिया है। कालिंदीपुरम इलाके में रहने वाली एक 20 वर्षीय युवती दूसरे के घरों में झाड़ू पोछा का काम करती है। उसके पिता की मौत हो चुकी है। युवती का आरोप है कि 2 दिन पहले वह अपने बॉयफ्रेंड के साथ रात में सड़क पर टहल रही थी, तभी वहां आए दो युवक उसके बॉयफ्रेंड को पीटने लगे। विरोध करने पर एक युवक उसको जबरन उठा ले गया और डेयरी के पीछे दुष्कर्म किया। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने पूछताछ की और तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया। विवेचक एसआई मनीष त्रिपाठी का कहना है आरोपित जिकरान को गिरफ्तार कर लिया गया है । उससे पूछताछ की जा रही है।आरोपित युवती के ही मुहल्ले का रहने वाला है और डेयरी संचालक है।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस