प्रयागराज, जेएनएन। संगमनगरी प्रयागराज में कुंभ के नाम आज एक और रिकार्ड बन गया। कुंभ में यात्रियों की सेवा में लगीं परिवहन निगम की 509 बसों के नौ किलोमीटर लंबा काफिला ने एक ही सड़क पर इतनी बड़ी संख्या में खड़े होने का विश्व रिकार्ड बना दिया। अब यह रिकार्ड गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड में दर्ज हो गया है।

प्रयागराज कुंभ मेला में संचालित होने वाली 509 शटल बसों का आज एक साथ साथ संचालन किया गया। सहसों बाईपास पर राष्ट्रीय राजमार्ग पर बसों का संचालन नवाबगंज तक किया गया। यह उपलब्धि गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड में दर्ज हो गई। इन शटल बसों ने कुल 12 किलोमीटर की दूरी तय की। इसका परीक्षण करने के लिए गिनीज बुक आफ वल्र्ड रिकार्ड की टीम मौजूद रही। इसके पहले यह रिकार्ड यूएई में 2010 में 390 बस के एक साथ चलाने का था। दो दिसम्बर 2010 को अबूधाबी में यह विश्व रिकार्ड बना था।

आज इस हाईवे पर ट्रैफिक 11 बजे तक वन-वे किया गया था। सभी शटल बस के नौ किलोमीटर के लंबा काफिला ने स्टार्ट प्वाइंट से 3.2 किलोमीटर का सफर तय किया। शटल बसों ने कुल 12 किमी की दूरी तय की।

इन शटल बसों को प्रमुख सचिव परिवहन आराधना शुक्ला और कमिश्नर डॉ आशीष गोयल ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।

राष्ट्रीय राजमार्ग -19 पर सहसों बाईपास से नवाबगंज तक के मार्ग पर शटल बसों का संचालन किया गया। रोडवेज के क्षेत्रीय प्रबंधक डॉ. हरिशचंद्र यादव के मुताबिक यह विश्व में पहला मौका होगा जब 509 बसें एक साथ कतारबद्ध खड़ी हुई और उसके बाद एक ही रूट पर चलीं।

मण्डलायुक्त, प्रयागराज, डॉ. आशीष कुमार गोयल ने बताया कि इन सभी बसों का प्रतीकात्मक संचालन कुम्भ मेला में अनुशासित यातायात प्रबन्धन का नमूना है।

इस बार कुंभ मेला में 22 करोड़ से अधिक भीड़ को सुरक्षित और सुगम ढंग से वापस भेज देना अपने आप में एक रिकॉर्ड है। 

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस