प्रयागराज,जेएनएन । उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र (एनसीजेडसीसी) में शिल्प बाजार का लुत्फ उठा चुके लोगों को अगले हफ्ते एक और बाजार की सौगात मिलेगी। 18 दिसंबर से शिल्प हाट में ऊनी और हैंडलूम के कपड़ों सहित साज-सज्जा के सामान मिलेंगे। इसमें चार राज्यों से व्यापारी और शिल्पी प्रतिभाग करेंगे जिसमें हिमाचल और कश्मीर में बनेे गर्म कपड़े प्रमुख रूप से बिक्री के लिए लाए जाएंगे।

शिल्‍प हाट में सालभर बाजार श्रंखला की है योजना

शिल्प हाट में बाजार की श्रंखला साल भर तक देने की एनसीजेडसीसी की योजना जुलाई से चल रही है। इसी के तहत अगले सप्ताह से भी बाजार के लिए एक निजी संस्था से करार किया गया है।

राष्ट्रीय हथकरघा विकास निगम के सहयोग से लगेगा बाजार

यह संस्था राष्ट्रीय हथकरघा विकास निगम के सहयोग से शिल्प बाजार लगवाएगी। संस्था के प्रमुख अनुज सिंह ने बताया कि शिल्प बाजार में हिमाचल, कश्मीर, उप्र और उत्तराखंड से हैंडलूम वस्त्रों के व्यापारी, ऊनी कपड़े, कंबल और स्टोन दस्तकार प्रतिभाग करेंगे।  यहां लोग ठंड के मौसम के अनुसार अच्‍छी गुणवत्‍त वाला कपडा खरीद सकते हैं। जाडे के मौसम में हिमाचल और कश्‍मीर गर्म उनी कपडो की मांग ज्‍यादा होती है। ऐसे में लोगों को अच्‍छा कपडा मिलेगा और कारोबारियों को अच्‍छा बाजार ।

पीतल, कांच और लेदर के सामान भी मिलेंगे

उप्र के पीतल, कांच, लेदर, सिल्क लघु उद्योग से जुड़े लोग शाामिल होंगे। एनसीजेडसीसी के शिल्प हाट प्रभारी एमएम मणि ने बताया कि प्रयागराज वासियों को शिल्प उत्पाद सहित अन्य क्षेेत्रीय संस्कृति से परिचित कराने के लिए प्रयास जारी है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021