प्रयागराज, राज्य ब्यूरो। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड अगले कुछ दिनों में होने वाली तीन बड़ी परीक्षाओं को नकलविहीन व निष्पक्ष कराने में जुटा है। इसमें वर्ष 2016 की जीवविज्ञान टीजीटी तथा 2021 की टीजीटी और पीजीटी परीक्षा शामिल हैैं। बुधवार को चयन बोर्ड के चेयरमैन वीरेश कुमार ने प्रदेश के सभी 18 मंडल मुख्यालयों के जिलों के डीएम, एसएसपी और जिला विद्यालय निरीक्षकों (डीआइओएस) से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये इसके लिए बात की।

वीडियो कान्फ्रेंसिंग में शामिल हुए मंडल मुख्यालयों के अधिकारी

चयन बोर्ड के चेयरमैन ने वार्ता में शामिल अधिकारियों को बताया कि वर्ष 2016 की जीवविज्ञान विषय की टीजीटी परीक्षा 31 जुलाई को प्रदेश के सभी मंडल मुख्यालयों के जिलों पर एक पाली में होगी। इसके अलावा 2021 टीजीटी की परीक्षा सात एवं आठ अगस्त को और पीजीटी परीक्षा 17 व 18 अगस्त को प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों में दो पालियों में होगी। जीव विज्ञान और टीजीटी परीक्षा के लिए केंद्रों का निर्धारण करने के साथ प्रवेश पत्र जारी कर दिए गए हैैं। उन्होंने अधिकारियों को बताया कि सरकार का जोर नकलविहीन और निष्पक्ष परीक्षा कराने पर है। शांतिपूर्ण ढंग से परीक्षा कराने के साथ कोविड गाइडलाइन का पालन भी कराया जाना है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए एक परीक्षा कक्ष मेें 24 से अधिक परीक्षार्थी नहीं बैठाए जाएंगे। केंद्र पर मास्क और सैनिटाइजेशन की व्यवस्था अनिवार्य रूप से की जाएगी।

प्रदेश के 57 जिला मुख्यालयों से आज होगी वार्ता

चयन बोर्ड के उप सचिव नवल किशोर ने बताया कि परीक्षाओं की तैयारी को लेकर चयन बोर्ड के चेयरमैन गुरुवार को प्रदेश के शेष 57 जिलों से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये वार्ता करेंगे। इसमें डीएम, एसपी और डीआइओएस शामिल होंगे।

Edited By: Ankur Tripathi