प्रतापगढ़,जेएनएन।  पीसीएस 20018 की परीक्षा का परिणाम शुक्रवार को घोषित किया गया। इसमें जिले के कई युवाओं को सफलता मिली है। एसएसपी की बेटी मधुमिता व अधिवक्ता का भाई दीपक जहां डिप्टी कलेक्टर बने। वहीं कई अन्य लोगों को भी सफलता मिली है।

लालगंज क्षेत्र के बहुंचरा गांव की मधुमिता सिंह ने पीसीएस 2018 में 31वीं रैंक पाकर डिप्टी कलेक्टर बनीं। मधुमिता सिंह के पिता बालेंदु भूषण सिंह आइपीएस अधिकारी हैं। इस समय वह कानपुर में एसएसपी एसआइटी के पद पर कार्यरत हैं, जबकि मां सुमित्रा सिंह गृहणी हैं। मधुमिता की प्रारंभिक शिक्षा कार्मल कान्वेंट हाईस्कूल लखनऊ से हुई। मधुमिता ने पहले ही प्रयास में पीसीएस की परीक्षा उत्तीर्ण की है।

मंत्री महेंद्र सिंह के भतीजे बने एसटीओ

कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह के भाई श्रीनारायण सिंह के बेटे प्रशांत सिंह ने पीसीएस परीक्षा में सफलता हासिल की। उनका चयन सेल्स टैक्स आफीसर के पद पर हुआ है। प्रशांत बी.टेक हैं और उनका लक्ष्य आइएएस अधिकारी बनना है।

अधिवक्ता के भााई दीपक बने डिप्टी एसपी

जनसत्ता दल लोकतांत्रिक ( युवा प्रकोष्ठ) के जिला अध्यक्ष व वरिष्ठ अधिवक्ता दिनेश तिवारी के छोटे भाई दीपक तिवारी ने पीसीएस परीक्षा में सफलता हासिल कर डिप्टी एसपी बनें। इसकी जानकारी होने पर जिला कचहरी में खुशी का माहौल रहा।

किसान के बेटे राजीव बने जिला प्रोबेशन अधिकारी

  उत्तर प्रदेश राज्य लोक सेवा आयोग की घोषित पीसीएस की परीक्षा में सदर विकास खंड के संग्रामपुर किला गांव निवासी राजीव कुमार सिंह का चयन जिला प्रोबेशन अधिकारी पद पर हुआ है। किसान अशोक कुमार सिंह के तीन बेटों में सबसे बड़े राजीव कुमार सिंह शुरू से ही पढ़ाई में बहुत ही मेधावी रहे हैं।

सुनील शुक्ला बने श्रम प्रवर्तन अधिकारी

  कोहंड़ौर इलाके के गहरौली गांव निवासी किसान बाल कृष्ण शुक्ल का बेटा सुनील कुमार शुक्ल पीसीएस की परीक्षा पास कर श्रम प्रवर्तन अधिकारी के पद पर चयनित हुआ हैं। उनके चयन की जानकारी पर पिता बाल कृष्ण शुक्ल तथा माता कर्मा देवी को खुशी का ठिकाना न रहा ।

पूर्व प्रिंसिपल का बेटा धीरेंद्र बना सूचनाधिकारी

  बाबागंज विकास क्षेत्र के दुबानन का पुरवा मजरे राय असकरनपुर निवासी परमेश्वर प्रसाद इंटर कॉलेज मालाधर छत्ता के पूर्व प्रधानाचार्य रामदेव यादव के पुत्र धीरेंद्र कुमार यादव का चयन 2018 पीसीएस परीक्षा में सूचना अधिकारी के के पद पर हुआ है।

सत्येंद्र सिंह बने डिप्टी एसपी, गांव में जश्न

 विकास खंड के कोडरामादूपुर के डढ़ैला गांव में पीसीएस 2018 के आए परिणाम में किसान के बेटे का डिप्टी एसपी पर चयन होने से खुशी का महौल है। कोडऱा मादूपुर के डढ़ेला निवासी किसान देवेंद्र सिंह का बेटा सत्येंद्र सिंह का चयन डिप्टी एसपी के पद पर हुआ है। उनके चयन से गांव में खुशी का महौल है।

पीसीएस में पट्टी के होनहारों ने लहराया परचम

  उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग की सम्मिलित राज्य/ प्रवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा (पीसीएस) 2018 में पट्टी के होनहारों ने भी अपना परचम लहराया है। पट्टी के पूरे सुखचैन अशोकपुर निवासी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पट्टी के खंड संचालक नागेंद्र कुमार मिश्रा के बेटे मयंक मिश्र का चयन डीएसपी के पद पर हुआ है। उन्होंने 16वीं रैंक हासिल की है। बिरौती (बिरौली) निवासी अच्छेलाल मिश्र का चयन एक्साइज इंस्पेक्टर के पद पर हुआ है। वर्तमान में अच्छेलाल पंजाब के पठानकोट में केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-3 में हिन्‍दी के प्रवक्ता के पद पर कार्यरत हैं। बेला रामपुर निवासी रामप्यारे चौरसिया के बेटे सतीश कुमार चौरसिया का चयन कमर्शियल टैक्स ऑफिसर के पद पर हुआ है। वहीं आसपुर देवसरा के दलापुर निवासी रमेश सिंह यादव का चयन जिला कोषाधिकारी के पद पर हुआ है।

दो सगे भाइयों का पीसीएस में हुआ चयन

क्षेत्र के फूलपुर रामा गांव निवासी स्व. शिव बहादुर यादव के दो बेटों का पीसीएस में चयन होने से घर में दोहरी खुशी रही। विजय सिंह यादव का चयन जीआइसी के प्रधानाचार्य व जय सिंह यादव का चयन सह जिला विद्यालय निरीक्षक के पद पर हुआ है। वर्तमान समय में दोनों सगे भाई राजकीय इंटर कॉलेज में प्रवक्ता के पद पर कार्यरत हैं। अभी एक वर्ष पहले इनके छोटे भाई दिग्विजय सिंह का चयन सिविल जज के पद पर हुआ था।  विजय सोरांव में कमलानगर इंटर कालेज सोरांव में प्रवक्ता तथा जय सिंह गाजियाबाद में जीआइसी में शिक्षक हैं।

पूर्व सैनिक का बेटा बना एक्साइज़ इंस्पेक्टर

 पट्टी तहसील क्षेत्र के शेखपुर गांव के रहने वाले रिटायर्ड सैनिक ज्वाला प्रसाद त्रिपाठी के बेटे राहुल त्रिपाठी का चयन एक्साइज इंस्पेक्टर के पद पर चयन हुआ है। उनकी माता सुशीला देवी और पिता को बधाई देने वाले आते रहे। राहुल ने बीटेक किया है और वह आइएएस अधिकारी बनना चाहते हैं।

शशिकांत बने श्रम प्रवर्तन अधिकारी

तिलक इंटर कालेज के पूर्व प्रवक्ता शिव प्रसाद मिश्र के पौत्र शशिकांत मिश्रा का चयन श्रम प्रवर्तन अधिकारी के पद पर हुआ है। शशिकांत पट्टी तहसील क्षेत्र के मिश्रपुर गांव के रहने वाले हैं। वह इस समय अमेठी में ज्येष्ठ लेखा परीक्षक के पद पर तैनात हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस