प्रयागराज, जेएनएन। शहर पश्चिमी क्षेत्र के जलालपुर और घोसी में ससुर खदेरी नदी पर बन रहे पुल पर अगले हफ्ते से आवागमन शुरू हो जाएगा। इस पुल पर आवागमन शुरू होने से धूमनगंज, पीपल गांव, असरावल, घोसी और जलालपुर समेत एक दर्जन से ज्यादा लगभग 30 हजार की आबादी को आवागमन में सुविधा होगी। जिले में ससुर खदेरी नदी पर यह तीसरा पुल होगा। इसके पहले करेली के करामत की चौकी और करैलाबाग व बख्शी मोढ़ा के लिए इसी नदी पर पुल बनाया गया था।

भूमि के साथ ही पुल के एलायमेंट, एप्रोच रोड के ढाल को लेकर था विरोध

झलवा के पीपलगांव के आगे जलालपुर और घोसी गांव में ससुर खदेरी नदी पर पुल निर्माण की लोग अरसे से मांग कर रहे थे। प्रदेश सरकार ने पुल की मंजूरी देते हुए लगभग 20 करोड़ रुपये की धनराशि जारी कर दी। उत्तर प्रदेश राज्य सेतु निगम ने अप्रैल 2018 में इसका निर्माण शुरू कराया। लगभग 80 मीटर लंबे इस पुल का काम तेजी से शुरू कराया गया था। पुल बन गया और दोनों ओर 400 मीटर एप्रोच रोड का निर्माण चल रहा था कि स्थानीय लोगों ने जमीन को लेकर विरोध कर दिया। पुल के एलायमेंट और एप्रोच रोड के ढाल को लेकर भी लोग विरोध करने लगे। इसके बाद दिसंबर 2018 में पुल का निर्माण कार्य बंद हो गया।

खास बातें

- 20 करोड़ रुपये की लागत से बन रहे पुल का रुका था एक साल से काम

- 12 गांवों की 30 हजार की आबादी के लिए होगी आवागमन में सुविधा

बोले एसडीएम सदर, भूमि विवाद का हो गया है समाधान

एसडीएम सदर अवध नारायण सिंह ने बताया कि जमीन के विवाद का समाधान करा दिया गया। अब पुल का शेष कार्य शुरू हो गया है। मात्र 30 मीटर एप्रोच मार्ग और पुल का लेपन कार्य बचा था, जो जल्द ही हो जाएगा। अगले हफ्ते पुल से आवागमन शुरू करा दिया जाएगा।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस