जागरण संवाददाता, इलाहाबाद : सोरांव के बिगहियां गांव में एक परिवार के चार लोगों की हत्या के मामले में पुलिस का फोकस लूट से हट नहीं रहा है। संपत्ति विवाद सामने आने और नामजद आरोपितों के फरार हो जाने के बावजूद पुलिस अधिकारी लूट के एंगल को तरजीह दे रहे हैं। कमलेश देवी और उसकी बेटी किरण उर्फ ¨रकी के नाक, कान और गले में एक भी जेवरात नहीं पाए गए थे, ऐसे में पुलिस को शक है कि वारदात लूट के लिए हो सकती है। हालांकि, पुलिस हर पहलू पर जांच आगे बढ़ा रही है। सोमवार को पुलिस टीमों ने घुमंतू जाति के एक दर्जन से अधिक लोगों को उठाकर पूछताछ की।

जांच में जुटी पुलिस टीमों ने सोमवार को प्रतापगढ़, मऊआइमा और सोरांव के बदमाशों के यहां छापामारी कर कई को उठाया। देर रात तक बदमाशों से पूछताछ होती रही। घुमंतू जाति, खानाबदोशों की तलाश में भी कई जगह दबिश दी गई। रेलवे लाइन के किनारे टेंट लगाकर रहने वालों को उठाकर पुलिस पूछताछ कर रही है। दरअसल, घटनास्थल पर जिस ढंग से सामान बिखरा मिला, उससे पुलिस का शक लुटेरों के ऊपर से हट नहीं रहा है। बदमाश घर से क्या ले गए, यह बताने वाला कोई नहीं। हालांकि, किसी के शरीर पर एक भी जेवर न मिलना संदेह पैदा कर रहा है। उधर, कमलेश देवी का दूसरा दामाद टिकरी नवाबगंज निवासी अमर उर्फ शरद पांडेय फरार है, इसलिए पुलिस उस बिंदु को भी नजरअंदाज नहीं कर पा रही है। जेठ और उसका बेटा भी फरार हैं। नामजद आरोपितों के घरवालों का कहना है कि वह डर की वजह से भागे हैं। पुलिस घरवालों पर दबाव बना रही है। एसपी गंगापार सुनील सिंह के नेतृत्व में सोमवार को भी गांव के लोगों से पूछताछ की गई। वनकेसरी गांव से चार युवकों को उठाया गया है।

------------

संपत्ति विवाद के साथ ही लूट के बिंदु को फिलहाल खारिज नहीं किया जा सकता। हर पहलू पर जांच आगे बढ़ाई जा रही है। तीन टीमों को अलग अलग पहले पर पूछताछ के लिए लगाया गया है।

नितिन तिवारी, एसएसपी

-------------------

हड़ताल पर रहे वकील

जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष उमाशंकर तिवारी, मंत्री बऊ मिश्र, मनोज सिंह लोकेश के द्वारा की गई आमसभा में वकीलों ने बालसखा मिश्र के बेटे, बहू समेत चार लोगों की हत्या पर दु:ख जताते हुए हड़ताल की घोषणा की गई। वकीलों ने एसएसपी से मुलाकात कर गिरफ्तारी की मांग की। अधिवक्ता जितेंद्र कुमार श्रीवास्तव के निधन पर यंग लॉयर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अमिताभ दुबे, अनिल कुमार तिवारी, राकेश दुबे, रेवती रमण, कुश कुमार पांडेय आदि ने शोक सभा की।

Posted By: Jagran