प्रयागराज, जेएनएन। प्रतापगढ़ जनपद में सामूहिक दुष्कर्म की शिकार किशोरी ने आत्महत्या का प्रयास किया। चाकू से हाथ की नस काट ली। इलाज के लिए उसे अस्‍पताल ले जाया गया। इस मामले में मुख्‍य आरोपित अभी भी फरार है। उसे पुलिस अभी तक नहीं पकड़ सकी है। अपना दल के नेता के पुत्र समेत तीन आरोपित पकड़े जा चुके हैं।

जंगल में किशोरी से सामूहिक दुष्‍कर्म हुआ था : देल्हूपुर गंजेहड़ा जंगल में 17 वर्षीय किशोरी के साथ उसके दोस्त समेत तीन लोगों ने शुक्रवार शाम दुष्कर्म किया था। इस मामले में अपना दल के नेता के पुत्र समेत चार लोग नामजद हैं, तीन पकड़े जा चुके हैं। किशोरी फतनपुर के एक गांव की है। उसका उपचार कराने के बाद घर के लोग ले गए थे। घर पहुंचने पर वह बहुत उदास थी। रविवार दोपहर बाद अचानक उसने नस काट ली। जानकारी होने पर उसे स्वजन गौरा सीएचसी ले गए।

आरोपित शिवम सरोज अब भी फरार है : इस घटना में नामजद विश्वनाथगंज के शिवम सरोज को अब तक पुलिस नहीं पकड़ सकी है। किशोरी शुक्रवार शाम विश्वनाथगंज थाना मानधाता पहुंची। वहां पर शिवम के साथ अपना दल नेता व पूर्व जिला पंचायत सदस्य मो. फहीम उर्फ पप्पू के पुत्र तफ्सीर निवासी गोवर्धनपुर और इसी गांव के मुन्नू, पहाड़पुर के रफीक भी मिले। यह सब लोग युवती को कार से प्रयागराज-अयोध्या हाईवे के किनारे गंजेहड़ा जंगल में ले जाकर दुष्कर्म किया था। उनके भाग जाने के बाद लड़की ने हाईवे पर आकर शोर मचाया तो लोगों को घटना की जानकारी हुई।

क्‍या कहते हैं एसओ देल्‍हूपुर : एसओ देल्हूपुर धीरेंद्र ठाकुर ने बताया कि चारों आरोपितों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। शिवम के अलावा सब पकड़ गए हैं।

आरोपितों के घर पर बुलडोजर चलाने की मांग : सामूहिक दुष्‍कर्म की घटना के विरोध में देल्हूपुर में सामाजिक कार्यकर्ता आलोक आजाद के नेतृत्व में लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। आरोपितों पर सयत कार्रवाई करने, उनके घर पर बुलडोजर चलवाने की मांग करते हुए नारेबाजी की।

Edited By: Brijesh Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट