प्रयागराज, जेएनएन। दिव्यांगजन और वृद्धजन के सम्मान के लिए परेड मैदान सजकर तैयार है। मैदान पर लगे सभी हैैंगर पंडालों में अलग-अलग 21 ब्लॉकों में लगभग 75 हजार कुर्सियां रखी गई हैैं। इसके अलावा दो हजार वीवीआइपी के लिए भी कुर्सियां रखी गई हैैं। मंच पर राज्यपाल, मुख्यमंत्री समेत लगभग दो दर्जन वीवीआइपी होंगे। इसमें केंद्रीय मंत्री और प्रदेश के मंत्री तथा सांसद व कुछ विधायक भी शामिल होंगे। समारोह में लाभार्थियों को लाने के लिए शुक्रवार की रात गांव में भेजी गई टीमें संपर्क करती रहीं। टीमें प्राथमिक विद्यालयों में रुकी थीं, जहां से उन्हें लेकर वे सुबह कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने वाली हैं।

डेढ़ हजार बसें लाभार्थियों को कार्यक्रम स्थल तक पहुंचाएंगी

कार्यक्रम स्थल पर सभी तैयारियां शुक्रवार को ही पूरी कर ली गईं। देर रात तक उच्चाधिकारी और मातहत अफसर कार्यक्रम स्थल पर डटे रहे। सुबह छह बजे ही निर्देशानुसार अफसर कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने लगे हैैं। सुबह आठ बजे के बाद से ही लाभार्थियों की बसें पहुंचने लगेंगी। लगभग डेढ़ हजार बसें लगाई गई हैैं। समारोह के बाद लगभग 12 हजार लाभार्थियों के बड़े उपकरण जैसे मोटराइज्ड ट्राई साइकिल, ट्राई साइकिल, व्हील चेयर आदि ट्रकों से उनके घर पहुंचाए जाएंगे। इसके लिए तीन सौ ज्यादा ट्रक लगाए गए हैैं। सभी उपकरण शुक्रवार को ही परेड मैदान स्थित कार्यक्रम स्थल पर पहुंचा दिए गए थे।

मंच के पास ही कंट्रोल रूम भी बनाया गया है

मंच को शुक्रवार शाम तक फूल-माला से सजा दिया गया। चारों ओर गमले भी रखे गए हैं। दोनों ओर उच्च क्षमता के 12 एसी भी रखे गए हैैं। दाहिने तरफ आकर्षक सैैंड आर्ट भी बनाया गया है। मंच के दोनों ओर वातानुकूलित शेफ हाउस भी बनाए गए हैं। मंच के पास ही कंट्रोल रूम भी बनाया गया है। मंच पर जाने वालों की सूची एसपीजी ने फाइनल कर प्रशासन को दे दी है।

40 एलईडी स्क्रीन पर मन की बात का सीधा प्रसारण होगा

प्रधानमंत्री जिन तीन सौ लाभार्थियों के साथ मन की बात करेंगे, उसका सीधा प्रसारण भी होगा। पंडालों में बैठे अन्य लाभार्थियों के लिए 40 एलईडी स्क्रीन लगाई गई हैैं, जिससे वे देख सकेंगे। मन की बात के लिए अलग से पंडाल बना है जिसे चारो ओर से घेर दिया गया है। उसमें पीएम मोदी और मुख्यमंत्री ही लाभार्थियों के बीच रहेंगे।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस