प्रयागराज, जेएनएन। प्रतापगढ़ मेें सदर विधानसभा सीट के उपचुनाव में सोमवार को कड़ी सुरक्षा के बीच 44.55 फीसद मतदान हुआ। यह 2017 के सदर विधान सभा क्षेत्र के मतदान से 10 फीसद कम रहा। बूथों पर सिविल पुलिस व पीएसी के साथ ही अर्धसैनिक बल के जवान सतर्क रहे। कुछ जगहों पर मामूली विवाद हुआ, जिसमें आधा दर्जन लोगों को हिरासत में ले लिया गया। वोट डालते वीडियो बनाकर वायरल करने के आरोप में दो नेताओं पर मुकदमा भी दर्ज हुआ।

जिले के 368 बूथों पर सुबह सात बजे से मतदान शुरू हुआ। सुबह से लेकर दिन में 11 बजे तक वोटर कम निकले। दोपहर बाद मतदान ने गति पकड़ी। शाम छह बजे के बाद प्रशासन ने 44.55 फीसद मतदान होने की जानकारी दी। हालांकि अभी मतदान का प्रतिशत कुछ घट बढ़ सकता है। मतदान प्रक्रिया को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए प्रेक्षक श्रीकांत शास्त्री, कमिश्नर प्रयागराज मंडल आशीष गोयल, डीआइजी कवींद्र प्रताप सिंह, डीएम मार्कंडेय शाही, एसपी अभिषेक  सिंह, सीडीओ डीपी सिंह समेत अधिकारी बूथों का जायजा लेते रहे।

24 अक्‍टूबर को होगी मतगणना:

डीएम ने बताया कि उपचुनाव शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुआ है। कुछ जगह से गलत सूचनाएं आई थीं। फिर भी वहां तत्काल पुलिस बल भेजकर सूचना की पड़ताल की गई। जरूरी कार्रवाई भी की गई। कहीं कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। मतगणना 24 अक्टूबर को महुली मंडी में कराई जाएगी।

मतदान की गोपनीयता भंग करने पर भाजयुमो जिलाध्‍यक्ष अौर सपा नेता पर मुकदमा

सदर विधानसभा उपचुनाव में कंधई मधुपुर में बूथ संख्‍या 324 पर मतदान की गोपनीयता भंग करने पर सपा नेता राजू यादव निवासी भैरोगंज के खिलाफ कंधई थाने में मुकदमा दर्ज हुआ है। पीठासीन अधिकारी लालमनि यादव की तहरीर पर एफआइआर लिखी गई है। राजू ने मतदान के बाद फोटो वायरल की थी। वहीं, भाजयुमो जिलाध्‍यक्ष रवि गुप्‍ता ने मतदान करते हुए फोटो सोशल मीडिया पर वायरल की थी। रवि के खिलाफ केस दर्ज हुआ है।

मतदान को लेकर रही स‍तर्कता

इसके पूर्व दोपहर एक बजे तक 26.7 फीसद वोटिंग हो चुकी थी। वहीं सुबह 11 बजे तक 19.5 फीसद वोट डाले जा चुके थे। यहां सुबह सात बजे से वोटिंग हो रही है। कटरा मेंदनीगंज के प्राइमरी स्कूल के बूथ पर लाइट डिम होने के बाद टार्च जलाकर मतदान की प्रक्रिया हुई। वहीं पुलिस की झूठी कार्रवाई से नाराज बबुरहा गांव के लोग अधिकारियों के समझाने के बाद मतदान को माने। इसलिए यहां देर से वोटिंग शुरू हुई। वहीं मतदान को लेकर जिला व पुलिस प्रशासन सतर्क रहा है।

पुलिस की कार्रवाई से ग्रामीण नाराज, डेढ़ घंटे प्रभावित रहा मतदान

सदर विधानसभा क्षेत्र के लिए हो रहे उप चुनाव का बबुरहा गांव के लोगों की वजह से करीब डेढ़ घंटे मतदान प्रभावित रहा। पुलिस की गलत कार्रवाई से लोग आक्रोशित थे और मतदान नहीं कर रहे थे। सूचना पर एसडीएम कुंडा  मोहनलाल गुप्ता गांव पहुंचे। ग्रामीणों का कहना था गांव के उन सात लोगों को  107-16 में पाबंद कर दिया गया, जिनका न तो कोई आपराधिक रिकॉर्ड है  न ही वह दबंग प्रकृति के हैं। उनके खिलाफ की गई कार्रवाई से  गांव में आक्रोश है। एसडीएम और सीओ के आश्वासन और समझाने पर माने। इससे मतदान की प्रक्रिया 8:30 बजे शुरू हो पाई। वहां काफी फोर्स तैनात कर दी गई है।

 

तीन लाख 36 हजार मतदाता प्रत्याशियों के भाग्य का करेंगे फैसला

सोमवार की सुबह सात से मतदान शुरू हुआ। शाम छह बजे तक मतदान होगा। तीन लाख 36 हजार 987 मतदाताओं में एक लाख 81 हजार 407 पुरुष, एक लाख 55 हजार 579 महिला, एक थर्ड जेंडर मतदाता हैं। 212 मतदान केंद्र और 368 बूथ बनाए गए हैं। मतगणना 24 अक्टूबर को सुबह आठ बजे से महुली मंडी में होगी। पोलिंग पार्टियां रविवार को रवाना की गईं। चुनाव मैदान में 11 उम्मीदवार हैं। मतदान के लिए 368 बूथ बनाए गए हैं। 3.36 लाख मतदाता प्रत्याशियों की तकदीर लिखेंगे। नतीजा 24 अक्टूबर को आएगा।

ये हैं उप चुनाव के प्रत्याशी

उप चुनाव में अपना दल (एस) भाजपा गठबंधन दल के प्रत्याशी राजकुमार पाल, सपा प्रत्याशी बृजेश वर्मा, कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. नीरज त्रिपाठी, बसपा प्रत्याशी रणजीत पटेल समेत कुल 11 प्रत्याशी मैदान में है। प्रचार के आखिरी क्षणों तक प्रत्याशियों व उनकी नैया पार कराने प्रचार के लिए पहुंचे  तमाम दिग्गज नेताओं ने भी पूरी ताकत लगाई। कई मंत्री समेत पार्टियों के नेता मतदाताओं को लुभाने गांव-गलियों में घूमे। अब वोटरों की बारी है।

131 मतदान केंद्रों पर खास सतर्कता

शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव संपन्न कराने के लिए 108 संवेदनशील, 17 क्रिटिकल मतदान केंद्र, छह बर्नेबल मतदान केंद्र चिन्हित किए गए हैं। सभी 131 मतदान केंद्रों पर पुलिस के साथ पैरा मिलिट्री फोर्स के जवान तैनात रहेंगे। सुरक्षा के नोडल अधिकारी एएसपी पश्चिमी दिनेश कुमार द्विवेदी ने बताया कि पूरे चुनाव क्षेत्र में फोर्स मोबाइल रहेगी। पुलिस के साथ पैरा मिलिट्री फोर्स के जवान भी मोबाइल रहेंगे।

इन विकल्पों को लाएं साथ

सोमवार को मतदान करने के लिए वोटरों को मतदाता पर्ची के साथ एक आइडी प्रूफ भी लाना होगा। डीएम ने बताया कि फोटो पहचान पत्र, पासपोर्ट, ड्राइविंगग लाइसेंस, सरकारी परिचय पत्र, बैंक डाकघर की फोटोयुक्त पासबुक, पैनकार्ड, मनरेगा जाबकार्ड, पेंशन कागजात, आधार कार्ड और स्वास्थ्य बीमा कार्ड में कोई भी एक लाने पर वोट देने में कोई समस्या नहीं होगी।

 

आठ जोन, 24 सेक्टर में बंटा चुनाव क्षेत्र

उपचुनाव के लिए सदर विधानसभा क्षेत्र को चार सुपर जोन, आठ जोन और 24 सेक्टरों में बांटा गया है। जोन और सेक्टर वार प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। सीडीओ, एडीएम, सीआरओ, एएसपी को सुपर जोनल मजिस्ट्रेट बनाया गया है जबकि एसडीएम व सीओ को जोन मजिस्ट्रेट के रूप में तैनात किए गया है। जिले के अलावा प्रयागराज, कौशांबी, फतेहपुर से फोर्स आई है। बूथों पर 38 इंस्पेक्टर, 198 दारोगा, 218 हेड कांस्टेबल, 800 कांस्टेबल और होमगार्ड मुस्तैद रहेंगे। बूथों के बाहर तीन एएसपी, तीन सीओ, 10 इंस्पेक्टर, 120 दारोगा, 60 हेड कांस्टेबल, 800 सिपाही व होमगार्ड मोबाइल रहेंगे। एक-एक कंपनी आइटीबीपी, बीएसएफ और दो कंपनी आरएएफ और तीन कंपनी पीएसी के जवान लगाए गए हैं।

 

4974 लोग पाबंद, नहीं करेंगे मूवमेंट

सदर उप चुनाव में पुलिस ने ऐसे 4974 लोगों को चिह्नित किया है, जो चुनाव में गड़बड़ी कर सकते हैं। इन लोगों को पुलिस ने पाबंद किया है। इन लोगों को वार्निंग दी गई है कि वह वोट देकर बूथ के इर्द-गिर्द नहीं घूम सकेंगे।

 

37 केंद्रों से हुई वेबकास्टिंग

212 मतदान केंद्रों में से 37 ऐसे मतदान केंद्रों को चिह्नित किया गया है, जहां से वेबकास्टिंग की जाएगी। मतदान के दिन की बूथ पर होने वाली गतिविधियों का लाइव प्रसारण वेब काङ्क्षस्टग के जरिए किया जाएगा।

 

हर केंद्र पर स्टेटिक मजिस्ट्रेट तैनात

उपचुनाव में कुल 212 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। सभी मतदान केंद्रों पर स्टेटिक मजिस्ट्रेट तैनात रहेंगे। इसके अलावा 31 मतदान केंद्रों पर माइक्रो आब्जर्वर मुस्तैद रहेंगे, जो प्रेक्षक के प्रतिनिधि के रूप में बूथ की निगरानी करेंगे और रिपोर्ट प्रेक्षक को देंगे।

 

स्ट्रांग रूम पर आइटीबीपी का पहरा

महुली मंडी में स्ट्रांग रूम बनाया गया है। स्ट्रांग रूम के बाहर आइटीबीपी के जवानों का पहरा रहेगा। रविवार को ही जवानों ने मोर्चा संभाल लिया। 21 अक्टूबर को मतदान के बाद देर शाम से रात तक ईवीएम और वीवी पैट को स्ट्रांग रूम में जमा किया जाएगा। 24 अक्टूबर को मतगणना समाप्त होने तक आइटीबीपी के जवान मुस्तैद रहेंगे।

 

आज सार्वजनिक अवकाश

सदर उपचुनाव के लिए सोमवार को मतदान है। इसके लिए डीएम ने इस दिन सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की है। स्कूल, कालेज, बैंक, बाजार आदि बंद रहेंगे।

रहेगा रूट डायवर्जन 

मतदान के दिन सोमवार को शहर से गुजरे हाईवे पर भारी वाहनों का प्रवेश बंद रहेगा। टीएसआइ संतोष यादव ने बताया कि डायवर्जन के अलावा शाम पांच बजे से ईवीएम जमा होने तक महुली मंडी के सामने वाले मार्ग से सार्वजनिक वाहन नहीं चलेंगे।

एसपी ने कहा

एसपी अभिषेक सिंह का कहना है कि उप चुनाव में सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए गए हैं। चुनाव क्षेत्र में जो बूथ क्रिटिकल बर्नेबुल हैं, वहां अतिरिक्त फोर्स लगी है। किसी को भी कानून से खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा। हमारे पास फोर्स पर्याप्त है।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप