प्रयागराज, जेएनएन। कोरोना वायरस संक्रमण की जांच में अब और तेजी लाई जा रही है। अलग-अलग क्षेत्रों में कार्य करने वालों की जांच कराने के लिए विशेष अभियान शुरू किया जा रहा है। 15 दिवसीय अभियान की शुरुआत गुरुवार से हो गई। पहले दिन ऑटो व रिक्शा चालकों की जांच की गई। बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन समेत कई जगह चालकों का सैंपल मोबाइल वैन के जरिए लिया गया। चालकों से उनसे जुड़ी तमाम जानकारियों के लिए फॉर्म भी भरवाया गया।

भीड़ वाली जगहों पर ले रहे सैंपल

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. जीएस वाजपेयी के अनुसार, भीड़ वाली जगह से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा अधिक है। संक्रमण का प्रकोप नहीं बढ़े, इसके लिए ऐसे स्थानों से सैंपल लिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि 30 अक्तूबर को ब्यूटी पॉर्लर से जुड़े लोगों का सैंपल लिया जाएगा। इसके अलावा मिठाई दुकान, रेस्तरां, मॉल के कर्मचारी, बिजली उपकरण व वाहनों की दुकान के लोगों का सैंपल लिया जाएगा।

कोरोना के प्रति किया जागरूक

सूचना और प्रसारण मंत्रालय के क्षेत्रीय लोक संपर्क ब्यूरो द्वारा तीन दिवसीय जागरूकता अभियान का शुभारंभ गुरुवार को किया गया। लौह पुरुष सरदार बल्लभ भाई पटेल की जन्मतिथि के उपलक्ष्य में आयोजित होने वाले इस अभियान का शुभारंभ सीएमओ डॉ. जीएस वाजपेयी ने किया। अभियान के दौरान सचल प्रदर्शनी, बैनर पोस्टर, हैंडविल्स व माइक के जरिए मास्क लगाने, फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए जागरूक करेंगे। सीएमओ ने कहा कि कोरोना का संक्रमण अभी खत्म नहीं हुआ इसलिए बचाव अति आवश्यक है। कोविड-19 के नोडल डॉ. ऋषि सहाय ने बताया कि प्रयागराज वासियों ने सावधानी दिखाकर कोरोना वायरस को नियंत्रित तो कर लिया है लेकिन अब जरा सी भी लापरवाही सभी के लिए घातक हो सकती है। संस्था के सहायक निदेशक राममूरत ने बताया कि 31 अक्टूबर तक विभिन्न क्षेत्रों में चलाया जाएगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस