प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज से वाराणसी रूट पर अब यात्रा करने वाले लोगों को बस न मिलने का संकट नहीं रहेगा। यात्रियों की सुविधा के लिए सिविल लाइंस बस स्टेशन से वाराणसी तक के लिए रोडवेज ने चार एसी जनरथ बसें बढ़ा दी हैं। दो दिन पहले से इनका संचालन भी शुरू हो गया है।

रोडवेज की आमदनी भी कम होने लगी थी

सिविल लाइंस बस स्टेशन से वाराणसी रूट पर कुल 40 बसों का संचालन हो रहा था। इससे पहले गोरखपुर में सड़क की खराबी तथा वाराणसी में बस स्टेशन तक गाडिय़ों के नहीं पहुंचने से रोडवेज की आमदनी कम होने लगी थी। इसके चलते रोडवेज ने इस रूट पर बसें कम कर दी थीं। कुछ बसें खराब भी हो गई थीं जिन्हें मरम्मत के लिए मीरजापुर भेजा गया था। अब वाराणसी रूट पर यात्रियों की संख्या में इजाफा होने के कारण रोडवेज ने फिर बसों की संख्या बढ़ा दी है।

बोले एआरएम

एआरएम मनोज कुमार शर्मा ने बताया कि चार जनरथ बसें मिली हैं जिन्हें वाराणसी रूट पर लगाया गया है। बसों में पर्याप्त यात्री भी मिल रहे हैं।

बेहतर ट्रेन संचालन को सेवानिवृत्त रनिंग कर्मियों ने दिए सुझाव

इलाहाबाद जंक्शन पर लोको पायलट एवं गार्ड लॉबी पर एनसीआर लैब के तत्वावधान में बेहतर ट्रेन संचालन के लिए अनुभव व ज्ञान समागम संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इसमें सेवानिवृत्त कर्मियों ने रनिंग स्टाफ को ट्रेनों के बेहतर संचालन के साथ स्वस्थ जीवन के लिए खान-पान, व्यायाम और विश्राम के बारे में बताया।

आज के परिवेश में कार्यशैली को बेहतर बनाने की सलाह दी

मुख्य अतिथि सेवानिवृत्त मेल लोको पायलट किशन सिंह ने अपनी पुरानी घटनाओं और आज के परिवेश में कार्यशैली को बेहतर बनाने के लिए जानकारी दी। एसएस पटेल और लोको पायलट एवं गार्ड लॉबी संयोजक वासुदेव पांडेय ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम का संचालन लोको पायलट पेंशनर समिति के अध्यक्ष सुशील कुमार श्रीवास्तव ने किया। आरके त्रिपाठी, शिवचरण सिंह, जेपी यादव, शोभाराम, आरबी शर्मा, ङ्क्षहच लाल, बीएम शुक्ला, विश्वनाथ, मदन लाल, उमा शंकर आदि मौजूद रहे।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस