प्रयागराज, जागरण संवाददाता। Road Safety With Jagran सुरक्षित यातायात अभियान के तहत दैनिक जागरण की तरफ से स्कूलों में विद्यार्थियों को सड़क पर चलने के सामान्य नियम के प्रति जागरूक किया जा रहा है। साथ ही नियम उल्लंघन पर मिलने वाली सजा की भी जानकारी दी जा रही है। छात्र-छात्राओं को इस बात के लिए प्रेरित किया जा रहा है कि वह अपने अभिभावकों को नियमों के उल्लंघन पर तुरंत टोंक दें। ऐसा करने पर ही सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाई जा सकेगी।

ट्रैफिक लाइट, संकेतकों के बारे में समझाया : विद्यार्थियों के लिए चल रही इस खास पाठशाला में सड़क पर बने संकेतकों के बारे में समझाया जा रहा है। ट्रैफिक लाइटों के अर्थ और उनके अनुपालन के संबंध में हिदायत दी गई कि लाल, पीली और हरी बत्ती का सीधा अर्थ है कि ठहरें, इंतजार करें फिर चलें।

मदर्स प्राइड स्‍कूल के बच्‍चों को किया जागरूक : प्रयागराज शहर के मदर्स प्राइड स्कूल में शिवकुटी थाना प्रभारी मनीष त्रिपाठी ने बच्चों से रोचक अंदाज में प्रश्न भी पूछे। बच्चों ने उत्साह के साथ उत्तर दिया और कहा, दुर्घटनाओं से बचने के लिए हेल्मेट, सीटबेल्ट जरूर प्रयोग करें। थाना प्रभारी ने हिदायत दी कि वाहन चलाते समय मोबाइल का प्रयोग बिलकुल न करें। यदि अभिभावक ऐसा करें तो प्रत्येक बच्चा उन्हें टोक दें। ऐसा करने पर हम दुर्घटनाओं को रोक सकेंगे। बहुत अधिक रफ्तार भी घातक है। नियंत्रित होकर वाहन चलाएं।

नारायणी आश्रम बालिका कालेज में सुरक्षित यातायात पाठशाला : नारायणी आश्रम बालिका कालेज में लगी पाठशाला में टीआइ सुरेंद्र कुमार ने कहा सड़क पर कभी भी वाहन चलाते समय स्टंट न करें। ऐसा करने पर हम अपने साथ दूसरों की जान से भी खिलवाड़ करेंगे। वाहनों को सड़क पर पार्क करने से भी बचना होगा। चौराहों पर अनावश्यक रूप से भीड़ भी दुर्घटनाओं की वजह बन रही है। चाहे बाइक चलाए या चार पहिया वाहन ओवरटेक करने से बचें। यदि ऐसा करते हैं तो इंडीकेटर का प्रयोग जरूर करें।

Edited By: Brijesh Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट