प्रयागराज, जेएनएन। मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एमएनएनआइटी) का 16वां दीक्षा समारोह शनिवार को समारोहपूर्वक हुआ। इसमें बीटेक के सभी ब्रांच में सर्वाधिक अंक हासिल करने वाले इलेक्ट्रानिक्स एवं कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग विभाग के तुषार बालियान को इंस्टीट्यूट गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया। मेरठ के रहने वाले तुषार का आईएस बनने का ख्वाब है। उन्‍हें यह सम्‍मान रेलवे बोर्ड के चेयरमैन और संस्थान के 1980 बैच के इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के छात्र रहे विनोद कुमार यादव ने दिया।

देश के विकास में इंजीनियर का अहम योगदान : डॉ. विनोद यादव

समारोह के मुख्य अतिथि रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने कहा कि देश के विकास में इंजीनियर का अहम योगदान होता है। भारत में लगातार इंजीनियरों की वजह से ही विभिन्न क्षेत्रों में विकास हो रहा है। इसका श्रेय कहीं न कहीं एमएनएनआइटी को ही जाता है। एमएनएनआइटी हर वर्ष बड़ी संख्या में इंजीनियरों की पौध तैयार कर रही है। उन्होंने कहा यह बहुत गर्व की बात है कि संस्थान के अधिकांश छात्र भारतीय रेलवे में अहम पदों पर जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। कहा कि संस्थान के शिक्षकों ने इंजीनियरिंग के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी छात्रों को बेहतर शिक्षा दी है। समारोह में संस्थान के निदेशक प्रोफेसर राजीव त्रिपाठी ने संस्थान की उपलब्ध्यिों के बारे में जानकारी दी।

1348 मेधावियों को डिग्री दी गई

दीक्षा समारोह में कुल 1348 मेधावियों को डिग्री दी गई। इनमें बीटेक के 860, एमटेक के 304, एमसीए के 85, एमबीए के 36, एमएससी के 12 और 51 मेधावी रहे। इसके अलावा 16वें दीक्षा समारोह में स्नातकोत्तर के 30, स्नातक के 15 मेधावियों को गोल्ड मेडल दिया गया। 31 मेधावियों को प्रायोजित गोल्ड मेडल दिया गया। समारोह में डिग्री पाने वाले कुल 1348 मेधवियों में 213 छात्राएं शामिल रहीं।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस