प्रयागराज,जेएनएन। गुजरात की अहमदाबाद जेल में बंद पूर्व सांसद अतीक अहमद के भाई एक लाख के इनामी पूर्व विधायक खालिद अजीम उर्फ अशरफ की तलाश में शनिवार को पुलिस ने छापेमारी की। सीओ सिविल लाइन, क्राइम ब्रांच और कई थाने की फोर्स ने कौशांबी के पूरामुफ्ती थाना क्षेत्र स्थित हटवा गांव में छापेमारी की। गांव के कई मकानों में तलाशी ली गई लेकिन अशरफ नहीं मिला। कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। सीओ सिविल लाइंस बृज नारायण सिंह का कहना है कि अशरफ के ससुराल में छुपे होने की सूचना मिली थी। इस पर दबिश दी गई है। इससे पहले धूमनगंज में भी कुछ संदिग्ध स्थानों पर छापेमारी की गई थी । कुछ दिन पहले भी पुलिस ने अशरफ की ससुराल में छापेमारी करते हुए देवरिया जेल कांड में प्रयुक्त फॉर्च्यूनर कार को बरामद किया था।

धूमनगंज थाने में पिछले दिनों केस दर्ज था

पूर्व सांसद अतीक अहमद के छोटे भाई पूर्व विधायक खालिद अजीम उर्फ अशरफ के खिलाफ पुलिस ने फिर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। पिस्टल जमा नहीं पर जहां उसके खिलाफ धूमनगंज थाने में मुकदमा लिखा गया हैै, वहीं ईद के दिन घर पर छापेमारी की गई थी। तीन दिन पहले भी पुलिस ने अशरफ की तलाश में छापेमारी की थी। लेकिन सफलता नहीं मिली थी।

 ढाई लाख रुपये इनाम करने की फाइल शासन को भेजी गई है

अब अशरफ पर इनाम की राशि बढ़ाने की कवायद तेज हो गई है। बता दें कि खुल्दाबाद थाना क्षेत्र में चकिया निवासी अशरफ पुत्र हाजी फिरोज अहमद के खिलाफ अलग-अलग थानों में करीब 30 आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। दोहरे हत्याकांड समेत छह मुकदमों में वह वांछित भी हैं। अभी अशरफ पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित है। पुलिस अधिकारियों ने इसे ढाई लाख रुपये करने के लिए फाइल भेज दी है लेकिन शासन स्तर पर अभी कोई निर्णय नहीं हुआ है।

अशरफ तीन साल से फरार है

पूर्व विधायक अशरफ गिरफ्तारी के लिए स्पेशल टॉस्क फोर्स (एसटीएफ) और क्राइम ब्रांच की टीमें भी लगी हुई हैं, पर तीन साल से फरार पूर्व विधायक को पकडऩे में नाकाम हैं। इधर, पुलिस अतीक और अशरफ से जुड़े लोगों पर लगातार शिकंजा कस रही है। अतीक के साढ़ू इमरान के खिलाफ भी बंदूक जमा न करने के मामले में पिछले दिनों खुल्दाबाद थाने में एफआइआर दर्ज की गई थी। गुजरात की जेल में बंद अतीक के विरुद्ध भी ऐसे ही प्रकरण में मुकदमा हो चुका है।

ईद पर पूर्व सांसद अतीक अहमद के घर छापा

जेल में बंद पूर्व सांसद अतीक अहमद और उनके साढू इमरान के घर में ईद पर घर आने की सूचना पर पुलिस ने पिछले दिनों छापेमारी की थी। पुलिस को सूचना मिली थी कि ईद के मौके पर अतीक का पुत्र उमर, भाई अशरफ और देवरिया जेल कांड में वांछित साढ़ू इमरान घर पर मौजूद हैं मगर दो घंटे तक खोजबीन में कोई मिला नहीं 

अतीक के पुत्र 22 वर्षीय उमर को भी सीबीआइ देवरिया जेल कांड में दो लाख रुपये का इनामी भगोड़ा घोषित कर खोज रही है। साढ़ू इमरान पर कई आपराधिक मुकदमे हैं। जनवरी 2019 में धूमनगंज के  डीलर जैद को बंधक बनाकर देवरिया जेल में अतीक के पास ले जाकर पीटने और पैसे छीनकर धमकाने के मामले में इमरान भी वांछित है। पिछले महीने भी पुलिस ने इमरान के घर छापेमारी की थी मगर वह मिला नहीं था।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021