प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज में अचानक मौसम बदल गया है। आसमान में छाए घने बादलों ने बारिश शुरू कर दी। अचानक बारिश ने बढ़ रही उमस भरी गर्मी पर लगाम लगाया। सोमवार की रात से रुक-रुक कर बारिश हाेने के कारण मौसम सुहावना हो गया है। यह बारिश पश्चिमी विक्षोभ के कारण हो रही है। बारिश प्रयागराज के साथ ही आसपास के जिलों में भी हो रही है। मौसम विभाग ने कल के मौसम का जो अनुमान लगाया है, आप भी इस खबर के माध्‍यम से जानिए।

आसमान में छाए हैं घने बादल

इन दिनों प्रयागराज में उमस भरी गर्मी से लोग परेशान थे। दोपहर में सूर्य की तल्‍ख किरणें परेशान कर रही थीं। हालांकि सोमवार की शाम से मौसम में परिवर्तन हुआ। आसमान में बादल उमड़ने-घुमड़ने लगे। रात में बूंदाबांदी शुरू हुई। वहीं रात से सुबह तक कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश हुई। इससे उमस से राहत लोगों को मिली। सुबह झमाझम बारिश हुई। इस समय बारिश तो नहीं हो रही है लेकिन आसमान में घने बादल छाए हुए हैं। मौसम विज्ञानी अचानक बारिश का कारण पश्चिमी विक्षोभ बता रहे हैं।

बारिश से फसलों को नुकसान

प्रयागराज और उसके आसपास के जिलों कौशांबी और प्रतापगढ़ में अचानक बारिश होेने के कारण खेतों में लगी फसलों पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है। बारिश से धान की फसल को नुकसान हुआ है। धान की फसल खेतों में लहलहाने लगी थी लेकिन तेज हवा के साथ बारिश से धान की फसल जमीन पर गिर गई हैं। धान की कटाई भी बारिश से प्रभावित हुई है। खेतों में कटी फसल पर बारिश से खराब होने का डर है। प्रयागराज व कौशांबी में धान व तिलहन की फसल हवा के झोंके से गिर गई है। इससे किसानों के माथे पर चिंता नजर आ रही है।

जानें, क्‍या कहते हैं मौसम विज्ञानी

इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी डाक्टर शैलेंद्र कुमार राय ने कहा कि यह बारिश पश्चिमी विक्षोभ की वजह से हो रही है। उन्‍होंने अनुमान लगाया कि कल यानी बुधवार को मौसम साफ रहने की उम्‍मीद है। कल आसमान में हल्के बादल रहेंगे और बारिश के आसार नहीं हैं।

Edited By: Brijesh Srivastava