प्रयागराज, जागरण संवाददाता। माफिया अतीक अहमद के खिलाफ प्रयागराज पुलिस का शिकंजा अब और कस रहा है। अतीक की संपत्तियों की लगातार कुर्की हो रही है। अब तक उसकी करीब छह अरब से अधिक की संपत्तियां कुर्क हो चुकी हैं। शहर के धूमनगंज और पूरामुफ्ती पुलिस को अतीक अहमद की कुछ और बेनामी संपत्तियों का पता चला है। उसके छोटे भाई अशरफ के नाम भी कई संपत्तियों के होने की जानकारी पुलिस को मिली है। अब इन सभी का पता लगाया जा रहा है।

कहां है अतीक की बेनामी संपत्ति, जिसकी पुलिस को जानकारी हुई है : धूमनगंज और पूरामुफ्ती पुलिस को पता चला है कि माफिया अतीक अहमद की झलवा, बमरौली समेत दो अन्य स्थानों पर करोड़ों की जमीन है। इसमें कुछ माफिया और उसके भाई के नाम है, जबकि अधिकांश जमीन माफिया ने अपने कई करीबियों के नाम करवा रखी है। पुलिस एक-एक कर माफिया के करीबियों की सूची तैयार कर रही है। मुखबिरों की भी मदद ली जा रही है। पता लगाया जा रहा है कि कौन सी जमीन माफिया ने खरीदी है। इसके लिए राजस्व टीम की भी मदद ली जा रही है। पुलिस को उम्मीद है कि जल्द ही इन संपत्तियाें का पता चल जाएगा।

क्‍या कहते हैं धूमनगंज थाना प्रभारी : धूमनगंज थाना प्रभारी राजेश मौर्य और पूरामुफ्ती थाना प्रभारी उपेंद्र प्रताप सिंह का कहना है कि माफिया अतीक और उसके करीबियों के बेनामी संपत्तियों की लगातार तलाश चल रही है। कुछ संपत्तियों का पता चला है, जिसकी जांच की जा रही है।

पूर्व ब्‍लाक प्रमुख दिलीप मिश्रा की जमीन की कुर्की होगी : प्रयागराज में चाका के पूर्व ब्लाक प्रमुख दिलीप मिश्रा पर पुलिस का शिकंजा और कसने वाला है। औद्योगिक क्षेत्र के भरौहा स्थित उसकी डेढ़ बीघा जमीन को जल्द ही कुर्क किया जाएगा। गैंगस्टर के तहत दर्ज मामले को लेकर यह कार्रवाई होगी।

फतेहगढ़ जेल में बंद है दिलीप मिश्रा : दिलीप मिश्रा पर कई संगीन मामले विभिन्न थानों में दर्ज हैं। इस समय वह फतेहगढ़ जेल में बंद है। अपराध से अर्जित धन से जिन संपत्तियों को दिलीप मिश्रा ने खरीदा या निर्माण कराया था, उसे पुलिस ने शुरुआती समय में ही ध्वस्त करा दिया था। इधर कुछ समय पहले औद्योगिक क्षेत्र थाने की पुलिस को जानकारी मिली कि उसकी भरौहा गांव में डेढ़ बीघा जमीन है। पुलिस ने इस जमीन के बारे में पता किया तो मालूम चला कि इसे उसने कई वर्ष पहले खरीदा था। इसकी रिपोर्ट तैयार की गई। कुर्की की कार्रवाई के लिए डीएम के पास फाइल भेजी गई है। अब जिलाधिकारी का आदेश मिलते ही इसे जमीन को कुर्क कर दिया जाएगा।

Edited By: Brijesh Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट