प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज जिले में बारा थानांतर्गत लोहगरा स्थित भोड़ी गांव के पास नहर में हत्या कर फेंकी गई बालिका की लाश के मामले में अभी तक कोई सुराग पुलिस के हाथ नहीं लगा है। हालांकि तफ्तीश में जुटी पुलिस को आशंका है कि इसमें किसी जानने वाले का ही हाथ है। जिस प्रकार हत्या की गई है, उससे भी यह साफ है कि हत्यारे के पास कोई ऐसी वस्तु नहीं थी, जिससे वह बालिका की हत्या कर सकता। इसलिए उसने उसके गले में बंधे स्कार्फ से ही उसकी गला घोटकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को शाल में लपेटकर नहर में फेंक दिया। पुलिस ने शाल को देखा तो वह छोटी थी। अब पुलिस इसी शाल के सहारे हत्यारे तक पहुंचने की कोशिश में लगी है।

घर के बाहर खेलते समय हो गई थी गायब

पांच दिन पहले लालापुर थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली 11 वर्षीया बालिका घर के बाहर खेल रही थी। अचानक वह गायब हो गई। पहले तो स्वजनों ने ध्यान नहीं दिया, लेकिन जब काफी देर तक वह नहीं दिखी तो उसकी तलाश शुरू हुई। आसपास के लोगों से पूछा गया। गांव के अन्य बच्चों से उसके बारे में जानकारी ली गई, लेकिन कोई कुछ नहीं बता सका। इसके बाद घरवालों के साथ अन्य ग्रामीण भी बालिका की तलाश में लग गए, लेकिन सफलता नहीं मिली। इसके बाद लालापुर पुलिस को सूचना देकर गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी।

घरवालों ने नहीं जताया किसी पर संदेह

बालिका के घरवालों ने किसी पर संदेह नहीं जताया है। किसी से रंजिश से भी इंकार किया है। ऐसे में पुलिस को मामले को सुलझाने में काफी दिक्कत हो रही है। बारा, लालापुर पुलिस के साथ ही एसओजी यमुनापार को भी लगाया गया है। सर्विलांस टीम की भी मदद ली गई, लेकिन कोई विशेष सफलता नहीं मिली। पुलिस ने कुछ संदिग्धों को पूछताछ के लिए उठाया और इनसे पूछताछ भी की गई, लेकिन कोई क्लू नहीं मिला।

Edited By: Brijesh Srivastava