मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

प्रयागराज : नवाबगंज थाना क्षेत्र के पयागपुर गांव में लूट व आगजनी के बाद हुई किसान की हत्या के मामले में पुलिस के हाथ अभी तक खाली हैं। घटना के बाद पुलिस ने कई लोगों को उठाया है, लेकिन उनसे कोई जानकारी नहीं हासिल हुई। अब पुलिस शक के आधार पर नजदीकियों पर नजर बनाए हुई है।

क्या था मामला

गांव निवासी भोला पटेल की सोमवार देर रात बदमाशों ने सिर कूचकर हत्या कर दी थी। हत्या के करने के साथ ही उसके उस कमरे को आग के हवाले कर दिया था, जिसमें भोला अपने जमीन संबंधी कागजात व नकदी आदि रखता था। सुबह घटना की जानकारी होते ही मौके पर पहुंचे पुलिस के उच्चाधिकारियों ने जल्द ही हत्या करने वाले आरोपितों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया था। पुलिस ने बुधवार को कई लोगों को उठाया और उनसे पूछताछ भी की। हालांकि कोई ठोस क्लू हासिल नहीं हो सका। पुलिस का कहना है कि हत्या के मामले मे कई बिंदुओं पर जांच की जा रही है। मौके पर मौजूद लोगों के सीडीआर के साथ ही उनके लोकेशन की जांच व पुरानी रंजिश को भी खंगाला जा रहा है। 

भाजपा जिलाध्यक्ष ने बंधाया ढांढस

बुधवार को भाजपा जिलाध्यक्ष कन्हैयालाल पांडेय ने भोला पटेल के घर पहुंचे। उन्होंने गमजदा परिजनों को हर संभव मदद दिलाने का आश्वासन दिया। साथ ही उच्चाधिकारियों से बात कर हत्यारोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी करने को कहा। परिजनों की सुरक्षा को लेकर उन्हे शस्त्र लाइसेंस देने का भी उन्होंने आश्वासन दिया। इस मौके पर कमल शुक्ला उमेश तिवारी आदि मौजूद रहे।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप