प्रयागराज,जेएनएन : विज्ञान परिषद के सभागार में फार्मासिस्ट दिवस मनाया गया। इस मौके पर फार्मासिस्टों ने अपनी समस्याओं पर मंथन किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक हर्षवर्धन बाजपेई रहे। उन्होंने आश्वासन दिया कि फार्मासिस्टों की आवाज व उनकी समस्याओं को वह विधानसभा में उठाएंगे। प्रयास करेंगे कि उनकी समस्‍या का निवारण तत्‍काल करा सकें।

अध्यक्षता कर रहे पूर्व कमिश्नर बादल चटर्जी ने फार्मासिस्टों की समस्याओं का समर्थन किया। पूर्व कमिश्नर ने कहा कि सभी सरकारी व गैर सरकारी फार्मेसी कॉलेजों को अपग्रेड करने की आवश्यकता है। ताकि समाज को मेधावी फार्मासिस्ट मिल सकें। फार्मासिस्‍ट मेडिकल व्‍यवस्‍था की धुरी होते हैं। इनको नजर अंदाज कर मेडिकल व्‍यवस्‍था में सुधार की कल्‍पना नहीं की जा सकती है। इसी क्रम में योगेश मिश्र, डॉ. वीके मिश्र, डॉ. एसके मिश्र, एसबी मिश्र, जियालाल यादव ने भी संबोधित किया।

फार्मासिस्टों ने मांग की है कि प्रदेश भर में बिना फार्मासिस्ट चल रहे अवैध मेडिकल स्टोरों एवं दवा व्यवसाय पर रोक लगे। आम जनता के लिए कम दाम पर उच्च गुणवत्ता की दवाइयों की आपूर्ति सुनिश्चित करें। अवैध मेडिकल स्‍टोरों पर कार्रवाई से फार्मासिस्‍टों की दशा में सुधार होगा। साथ ही लाेगों को भी सही दवा और सलाह मिलेगी। सरकार को अवैध मेडिकल स्‍टोरों पर लगाम लगानी ही होगी। संचालन अरविंद पांडेय ने किया। इस मौके चंचल द्विवेदी, बालेंदु मिश्रा, शशांंक केसरी, अनस अहमद, रंजीत कुशवाहा, यूबी सिंह, सुरेंद्र गिरि, प्रवीण मिश्र, विपिन केसरवानी समेत जिले के तमाम फार्मासिस्‍ट मौजूद रहे।

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप