प्रयागराज, जागरण संवाददाता। अपना दल (कमेरावादी) का दो दिवसीय अधिवेशन बुधवार को यहां सरदार पटेल संस्थान अलोपीबाग में संपन्न हुआ। समापन सत्र में बतौर मुख्य अतिथि पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने कहा कि प्रदेश में अपराध का ग्राफ चढ़ता जा रहा है। हर व्यक्ति खुद को असुरक्षित महसूस कर रहा है। देश असुरक्षित हाथों में है। कृष्णा पटेल का कहना था कि युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है। युवा बेरोजगार होकर सड़क पर टहल रहे हैं। महिलाओं के हित के लिए कोई योजना नहीं चलाई जा रही है। प्रदेश में सरकार बनने पर सभी के हित में योजनाएं चलाईं जाएंगी।

प्रदेश में न तो रोजगार और न शिक्षा

अधिवेशन में अति विशिष्ट अतिथि डा. पल्लवी पटेल ने कहा कि व्यवस्था परिवर्तन का बिगुल स्व. डा. सोनेलाल पटेल ने फूंका था। आज प्रदेश में रोजगार नहीं है। शिक्षा नहीं है। किसान तबाह हो गया है। महंगाई से लोगों की कमर टूटती जा रही है। डीजल-पेट्रोल, सरसो के तेल, गैस सिलेंडर के दाम आसमान छू रहे हैं। जनता की पहुंच से यह चीजें दूर होती जा रही हैं। प्रदेश में अपराध का ग्राफ सिर चढ़कर बोल रहा है। राज्य सरकार अपराधियों पर शिकंजा कसने में असफल साबित हुई है। अपना दल कमेरावादी ने हमेशा सभी वर्गों के हित के लिए कार्य किया है। पंकज निरंजन पटेल, गंगाराम यादव, मानिकचंद्र पटेल, हरिश्चंद्र पटेल, मो. मोबिन अहमद, आनंद प्रकाश श्रीवास्तव, उदल राजभर, विनोद, रमेश पटेल, राजकुमार पटेल, अजय पटेल आदि की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।

मिशन 2022 की तैयारी कर दी तेज

अपना दल कमेरावादी ने इस दो दिवसीय अधिवेशन के जरिए मिशन 2022 के लिए तैयारी तेज कर दी है। अपना दल कमेरावादी और अनुप्रिया पटेल के बीच सुलह की संभावनाएं फिलहाल बनती नहीं दिख रही हैं जबकि पिछले दिनों अनुप्रिया ने परिवार का विवाद खत्म करने के लिए अपनी ओर से पहल करते हुए बयान दिया था कि वह एमएलसी और मंत्री पद समेत अन्य समझौते करने के लिए तैयार हैं।

Edited By: Ankur Tripathi