प्रयागराज, जेएनएन। संपत्ति का नामांतरण कराने के लिए बार-बार नगर निगम के चक्कर लगाने से लोगों के लिए राहत भरी खबर है। 20 जून के बाद नगर निगम में संपत्तियों के नामांतरण की ऑनलाइन व्यवस्था शुरू हो जाएगी। लोग घर बैठे संपत्ति नामांतरण के लिए आवेदन कर सकेंगे। उन्हें नामांतरण प्रक्रिया के सभी अपडेट भी ऑनलाइन मिलते रहेंगे। यह व्यवस्था पहले एक अप्रैल से लागू होनी थी, लेकिन लोकसभा चुनाव के कारण इसकी पूरी तैयारी नहीं हो पाई। अब इसका काम तेजी से हो रहा है। 20 जून के बाद सुविधा मिल सकेगी।

 एनआइसी के सॉफ्टवेयर में तकनीकी खामी से व्यवस्था लागू नहीं हो सकी

संपत्ति के नामांतरण की ऑनलाइन व्यवस्था ई-नगर सेवा के जरिए संचालित करने की प्रक्रिया नगर निगम ने पिछले साल पूरी कर ली थी। मगर एनआइसी के सॉफ्टवेयर में तकनीकी खामी के कारण इस व्यवस्था को लागू नहीं किया जा सका। इस समस्या का समाधान निकालने के लिए प्रमुख सचिव नगर विकास ने आदेश जारी करके प्रदेश के सभी नगर निगम को अपने स्तर पर साफ्टवेयर बनवाने का विकल्प दे दिया था। प्रयागराज में कुंभ के कारण इस साल की शुरुआत में सवा दो महीने इस दिशा में काम नहीं हो पाया। कुंभ के पश्चात लोकसभा चुनाव की तिथि घोषित होने पर काम फिर अटक गया। अब इसे शीघ्र पूरा करने के लिए तेजी से काम हो रहा है। 

15 जून तक ऑनलाइन व्यवस्था की सभी तैयारियां पूरी होने की उम्मीद

नगर निगम के आइटी अफसर मणिशंकर त्रिपाठी का कहना है कि हमारी तैयारी है कि 15 जून तक संपत्तियों के नामांतरण की ऑनलाइन व्यवस्था की सभी तैयारियां पूरी हो जाएं। 20 जून के  बाद इसे लागू करने की योजना है। संपत्ति के नामांतरण की ऑनलाइन व्यवस्था हो जाने पर व्यक्ति घर बैठे आवेदन करने के साथ उसके सारे अपडेट ऑनलाइन देख सकेगा। उसे बेवजह चक्कर नहीं लगाने होंगे। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप