प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज में मांडा थाना क्षेत्र में मंलवार की रात में हत्‍या कर दी गई। वारदात को अंजाम उस समय दिया गया जब वह घर के बाहर सो रहे थे। सुबह लाश ग्रामीणों ने देखी तो सहम गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्‍जे में लेकर वारदात स्‍थल का निरीक्षण किया। किसान के मुंह और सिर पर चोट के निशान थे। इस संबंध में किसान के पुत्र ने अज्ञात हत्‍यारों के खिलाफ थाने में तहरीर दी है। पुलिस तहकीकात कर रही है। फिलहार हत्‍यारे पुलिस की पकड़ से दूर हैं।

घर के बाहर सोते समय किसान पर हुआ हमला

मांडा थाना क्षेत्र के भरारी गांव में शोभनाथ यादव 72 पुत्र स्वर्गीय खेतई यादव किसान थे। मंगलवार की रात में खाना खाने के बाद वह घर के बाहर सो रहे थे। आधी रात को अज्ञात लोगों ने शोभनाथ यादव पर हमला कर दिया। हत्‍यारों ने शोभनाथ के सिर और मुंह पर किसी वजनी वस्‍तु से प्रहार करके मौत की नींद सुला दी। चीख-पुकार सुनकर जब तक शोभनाथ के परिवार के सदस्‍य व आसपास के ग्रामीण पहुंचते हमलावर फरार हो चुके थे।

सीओ मेजा ने भी जांच-पड़ताल की, दी गई तहरीर

तत्‍काल पुलिस को सूचना देने के बाद परिवार के लोग शोभनाथ को स्‍थानीय अस्‍पताल ले गए लेकिन डॉक्‍टर ने उन्‍हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस पहुंची और वारदात स्‍थल का मुआयना किया। शोभनाथ के मुंह और सिर पर चोट के निशान थे। मुंह और पैर पर चकरी पड़ी हुई थी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। कुछ ही देर में वहां मेजा के सीओ सच्चिदानंद भी पहुंचे और घटनास्‍थल का निरीक्षण कर परिवार के सदस्‍यों के साथ ग्रामीणों से पूछताछ की। शोभनाथ के पुत्र कृपा शंकर यादव ने अज्ञात लोगों के विरुद्ध तहरीर दी है। पुलिस हत्‍यारों की तलाश कर रही है।

प्रधान के घर पर हमला, तोडफ़ोड़

मांडा थाना क्षेत्र के भंजनपुर गांव की प्रधान सरस्वती देवी का आरोप है कि मंगलवार की शाम को विपक्षी डेढ़ दर्जन की संख्या में उनके घर पर चढ़ आए और दरवाजे पर खड़ा ट्रैक्टर तोड़ दिया व बोलेरो का शीशा तोड़ दिया इसके बाद दरवाजा तोडऩे लगे। कुछ लोगों ने छत पर चढऩे का प्रयास किया। विपक्षी जान से मारने की धमकी दे रहे हैं लेकिन स्थानीय पुलिस कोई कार्यवाही नहीं कर रही। उनके घर में कोई भी पुरुष नहीं है केवल बच्चे वह महिलाएं हैं जो विपक्षियों के भय व आतंक के साए में जी रहे हैं। इस संबंध में चौकी प्रभारी भारतगंज विनय कुमार सिंह ने बताया कि तोडफ़ोड़ की बात सही है। बोलेरो का शीशा टूटा हुआ है। आरोपियों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कर कार्रवाई की जाएगी।

प्रधान व कोटेदार में खूनी संघर्ष हुआ था

मांडा थाना क्षेत्र के भंजनपुर गांव इस समय सुर्खियों में है। भंजनपुर के प्रधान और कोटेदार के बीच चल रही लड़ाई पिछले दिनों खूनी संघर्ष में बदल गई। प्रधान के पुत्र शिवाशीष दुबे और कोटेदार के भतीजे अंजनी कुमार दुबे मारपीट के दौरान बुरी तरह घायल हो चुके हैं और दोनों जिला अस्पताल में भर्ती हैं। गांव में जबरदस्त तनाव व्याप्त है। हालांकि पुलिस तैनात है। इसके बाद भी दोनों पक्षों के बीच तनातनी जारी है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस