जागरण संवाददाता इलाहाबाद : मंगलवार को भी आधा शहर जाम की चपेट में रहा। दोपहर में तो घंटों जाम में फंस लोग परेशान हुए ही कुछ इलाकों में रात में भी जाम लग गया। ऐसे में वाहन एक घंटे तक रेंगते रहे। दोपहर में भीषण गर्मी में जाम लगने से सबसे ज्यादा परेशानी स्कूली बच्चों को हुई। सुबह छह बजे घरों से निकले बच्चे जाम में फंस शाम चार बजे घर पहुंचे। स्कूली बस, वैन, टेंपो और ट्रालियों में बैठे बच्चे पानी मांगते नजर आए। सबसे ज्यादा बुरा हाल निरंजन सिनेमा हाल के आसपास का रहा। यहां देर रात तक जाम की स्थिति बनी रही।

नवाब यूसुफ रोड पर सड़क चौकी के नाम पर तोड़फोड़ तो हुई लेकिन महीनों से मलबा सड़क किनारे ही पड़ा है। इसी में सड़क पर बड़े बड़े गड्ढे हादसों के साथ जाम का झाम फैला रहे हैं। हाईकोर्ट पेट्रोल पंप के पास से वाहनों के निकलने के लिए रास्ता दिया गया था जिसे सोमवार को बंद कर दिया गया। इससे हालात और बदतर हो गए। स्कूल छूटने के बाद तो नवाब यूसुफ रोड पर वाहनों की लंबी लाइन लग गई। दोपहर में सेंट एंथोनी, मैरी लूकस चौराहा, कचहरी रोड, बालसन चौराहा, बेली रोड, स्टेनली रोड के अलावा अल्लापुर, दारागंज, बैरहना, रामबाग, मानसरोवर, हीवेट रोड आदि इलाके में दोपहर में भीषण जाम लगा। खुसरोबाग के पास खोदाई की वजह से वाहनों की लंबी कतार रही। इससे लूकरगंज, बेनीगंज, रेलवे स्टेशन रोड, नूरुल्ला रोड, गुड़िया तलाब, सब्जीमंडी खुल्दाबाद में दो घंटे जाम के हालात बने रहे। इतना ही नहीं फायर ब्रिगेड चौराहे से लेकर सूरजकुंड पुलिस चौकी और निरंजन डाट पुल के नीचे तो रात आठ बजे भीषण जाम के हालात रहे। यहां वाहन चीटी की चाल से रेंगते रहे। पिछले तीन दिनों से जानसनेगंज इलाके में रात में जाम लग रहा है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021