प्रयागराज : कुंभ मेले के सेक्टर एक में एक जनपद एक उत्पाद (ओडीओपी) की लगी प्रदर्शनी में सबसे ज्यादा उत्पादों की बिक्री करने वाले उत्पादक को 25 हजार रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा। दूसरे स्थान पर बिक्री करने वाले उत्पादक को 15 हजार और तीन अन्य उत्पादकों को 10-10 हजार रुपये का सांत्वना पुरस्कार भी दिया जाएगा।

प्रदर्शनी में 75 जिलों के उत्‍पादों के स्‍टॉल हैं

प्रदर्शनी में सूबे के सभी 75 जिलों के ओडीओपी के तहत चयनित उत्पादों के स्टॉल लगे हैं। प्रत्येक उत्पादक को 10 दिनों के लिए स्टॉल बुक किए गए। इस तरह चार मार्च तक चलने वाली प्रदर्शनी में हरेक जिले के पांच-पांच उत्पादकों को अपने उत्पाद लगाने के अवसर मिले। ओडीओपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्राथमिकताओं में शामिल है। इसलिए सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री सत्यदेव पचौरी ने उत्पादकों को प्रोत्साहित करने के लिए पुरस्कारों की घोषणा करने के निर्देश संयुक्त आयुक्त उद्योग को दिए थे। हालांकि, पुरस्कारों की घोषणा अब की गई।

उत्‍पादकों को आने और जाने का खर्च देगी सरकार

उत्पादकों को उत्पाद लगाने के लिए स्टॉल भी मुफ्त उपलब्ध कराए गए। उत्पादों को मूल जनपद से प्रदर्शनी तक लाने और ले जाने में वाहन का खर्च और किराया भी सरकार इन्हें देगी। उपायुक्त उद्योग अजय कुमार चौरसिया का कहना है कि इसके लिए उत्पादकों को संबंधित जिलों के जिला उद्योग केंद्रों में क्लेम करना पड़ेगा। इसके बाद खर्च की धनराशि शासन से स्वीकृत होगी और फिर बजट मिलने पर इसका भुगतान किया जाएगा।

संयुक्त आयुक्त उद्योग ने कहा

संयुक्त आयुक्त उद्योग सुधांशु तिवारी ने कहा कि चार मार्च के बाद यह तय होगा कि सबसे ज्यादा उत्पाद किस उत्पादक ने बेचे। दूसरे, तीसरे, चौथे, पांचवें स्थान पर रहने वालों के नाम भी तभी फाइनल होंगे। बिक्री और आगंतुकों की गिनती के लिए रजिस्टर दुरुस्त किए जा रहे हैं।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप