प्रयागराज, जेएनएन। बारिश के कारण हरी सब्जियां खेतों से कम निकलने के कारण मंगलवार को मुंडेरा मंडी में सब्जियों की आवक रोज से बहुत कम रही। वहीं मौसम साफ होने से सब्जियों की बिक्री ज्यादा हुई। इसकी वजह से हरी सब्जियों के थोक रेट भी चढ़ गए हैं। हरी सब्जियों की कीमतें और चढ़ने के आसार हैं। इससे फुटकर दामों में भी तेजी आएगी।

बारिश के कारण हरी सब्जियों की कम हुई पैदावार

दो दिनों की बारिश से खेतों में हरी सब्जियां ज्यादा नहीं निकलीं, जिससे मंगलवार को मंडी में सब्जियों की आवक कम रही। मौसम साफ हो जाने से फुटकर दुकानदारों और ग्राहकों द्वारा सब्जियों की खरीद अधिक करने से रेट चढ़ गए। गोला बैगन का दाम 17-18 रुपये से बढ़कर 20-22 रुपये किलो हो गया। नेनुआ, भिंडी, करैला का दाम भी चार-पांच रुपये से चढ़कर 12 से 15 रुपये किलो हो गया। कद्​दू भी दो-तीन रुपये से महंगा होकर आठ-नौ रुपये किलो हो गया।

सब्जियों के रेट और बढ़ने के हैं आसार

परवल का दाम सोमवार को तेज होकर 20 से 25 रुपये किलो हो गया था। वहीं, फुटकर में करैला 30 से 40, चौरा 40 से 50, लौकी 15 से 20 और नेनुआ 20, भिंडी 20, परवल 40-50 रुपये किलो रही। अब रेट और बढ़़ने की उम्मीद है।

मुंडेरा सब्जी एवं फल व्यापार मंडल के अध्यक्ष ने यह कहा

मुंडेरा सब्जी एवं फल व्यापार मंडल के अध्यक्ष सतीश कुशवाहा का कहना है कि बारिश के कारण खेतों से हरी सब्जियां कम निकलने से मंडी में आवक भी बेहद कम रही। दो दिनों बाद मौसम के साफ होने से खरीदार ज्यादा पहुंचे, जिससे सब्जियों की बिक्री में तेजी होने से सुबह ही मंडी एकदम खाली हो गई। इसी का नतीजा है कि सब्जियों के रेट में तेजी हो गई।

Edited By: Brijesh Srivastava