प्रयागराज, जागरण संवाददाता। कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) की ओर से आयोजित जीडी की परीक्षा में एक मुन्ना भाई प्रयागराज में गिरफ्तार हुआ है। उसे धूमनगंज से पकड़ा गया है। आरोपित अक्षय कुमार बिहार के छपरा का रहने वाला है। वह मीरजापुर निवासी शुभम पांडेय की जगह पर परीक्षा देने के लिए पहुंचा था। पुलिस अब यह पता लगा रही है कि आरोपित किसके कहने पर दूसरे अभ्‍यर्थी की जगह परीक्षा दे रहा था। यानी इसके तार कहां तक जुड़े हैं, इसका पता लगाया जा रहा है।

एसएससी जीडी परीक्षा की तीसरी पाली में पकड़ा गया

पुलिस के मुताबिक, धूमनगंज के नीम सराय स्थित एसपी एजुकेशनल इंस्टीट्यूट एंड मैनेजमेंट में एसएससी जीडी की परीक्षा शुक्रवार को आयोजित थी। परीक्षा की तीसरी पाली में वहां पर मौजूद कर्मचारियों ने अभ्यर्थियों की चेकिंग की। बायोमेट्रिक मिलान न होने पर अक्षय कुमार को पकड़ लिया गया। फिर पुलिस को सूचना दी गई।

केंद्र व्‍यवस्‍थापक की तहरीर पर केस दर्ज हुआ

पुलिस ने पूछताछ की तो पता चला कि वह जिस रोल नंबर पर परीक्षा देने वाला था वह रोल नंबर शुभम पांडे के नाम पर है। इस आधार पर परीक्षा के केंद्र व्यवस्थापक की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर अक्षय कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया। वह किसके कहने पर यहां परीक्षा देने के लिए पहुंचा था, इसकी जांच चल रही है।

पूर्व में भी एसएससी परीक्षा में फर्जीवाड़ा का आ चुका है मामला

इससे पहले भी एसएससी की परीक्षा में फर्जीवाड़ा करने का मामला सामने आ चुका है। अलग-अलग परीक्षाओं में पूरामुफ्ती में 23 फाफामऊ में पांच और सरायइनायत, धूमनगंज समेत कई थाना क्षेत्रों में 40 से ज्यादा लोगों को पकड़ा गया था। गिरफ्तार अभियुक्तों में अधिकांश बिहार और प्रयागराज के थे। कुछ झांसी राजस्थान और बनारस के भी आरोपित थे। ऐसे में पुलिस अक्षय कुमार का कनेक्शन पूर्व में पकड़े गए अभियुक्तों से खंगाल रही है। इंस्पेक्टर धूमनगंज तारकेश्वर राय का कहना है कि अभियुक्त को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा।

Edited By: Brijesh Srivastava