प्रयागराज, जेएनएन। माघ मेला क्षेत्र व मंदिरों में चोरी करने वाले पांच आरोपित पकड़े गए। दारागंज पुलिस ने शुक्रवार को मौनी अमावस्‍या के दिन पांचों को गिरफ्तार किया। उनके पास से नकदी और आभूषण भी बरामद किए गए। पुलिस उन्‍हें हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

 

दारागंज पुलिस ने की कार्रवाई

मौनी अमावस्‍या के दिन शुक्रवार को पुलिस अधिक सक्रिय है। ऐसे में थाना दारागंज पुलिस ने पांच आरोपितों को चोरी के आरोप में पकड़ा। पुलिस का कहना है कि पकड़े गए आरोपितों के कब्जे से चोरी की गई तीन सोने की बाली, दो सोने की अंगूठी, दो सोने के चेन, दो सोने के मंगलसूत्र, एक चांदी का पायल, चार लेडीज पर्स, एक जेंटस पर्स व 660 रुपये नकद बरामद किया गया। पुलिस ने बताया कि पकड़े गए आरोपित घूम-घूमकर माघ मेला क्षेत्र और मंदिरों में चोरी करते थे।

अंतरराज्‍यीय वाहन चोर गिरोह के दो सदस्‍य हिरासत में

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में पुलिस अधीक्षक अपराध के नेतृत्व में इन दिनों चोरी के वाहन गिरोहों पर की धरपकड़ की जा रही है। इसी क्रम में अभियान फोर व्हीलर लिफ्टरों (चार चक्का वाहन चोरों) की रोकथाम के लिए कार्रवाई पुलिस ने की। कीडगंज पुलिस ने अंतरराज्जीय शातिर वाहन चोर वसीर अहमद उर्फ अली को पकड़ा। उसके साथ उसके साथी आदित्य कुमार त्रिपाठी उर्फ गुड्डू को भी हिरासत में लिया। उनके पास से सैंट्रो कार भी बरामद की। पुलिस के अनुसार वसीर अहमद लगभग सौ मुकदमों में वांछित था। शातिर वाहन चोरों को पकड़ने में उप निरीक्षक एसके निगम कांस्‍टेबल मनीष सिंह, राजीव तिवारी, पुष्पेंद्र सिंह, रमेश पटेल, याकूब अहमद, हसीम खान, रामनिवास यादव, अनुराग यादव रहे। 

मस्जिद के अंदर वीडियो बना रहे आइसीआइसीआइ बैंक कर्मी धराए, छाेड़े गए

खुल्दाबाद में जुमे की नमाज़ के बाद शुक्रवार को तीन युवक मस्जिद के अंदर का वीडियो बना रहे थे। उन्‍हें वीडियो बनाते देख वहां मौजूद लोगों ने तीनों को पकड़ लिया। इसके बाद उन्‍हें खुल्दाबाद पुलिस को सौंप दिया। पुलिस को पूछताछ में पता चला कि तीनों आइसीआइसीआइ बैंक के कर्मचारी हैं। पुलिस के मुताबिक लिखित माफी लेकर आइसीसीआइसीआइ बैंक के अधिकारी के कहने पर तीनों को छोड़ा गया।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस