प्रयागराज, जेएनएन। आज यानी सोमवार को प्रयागराज से पहली श्रमिक स्पेशल ट्रेन कामगारों को लेकर छत्तीसगढ़ जाएगी। ट्रेन सूबेदारगंज स्टेशन से शाम छह बजे के बाद रवाना होगी। इससे पहले कामगारों को खेलगांव पब्लिक स्कूल में जुटने के बाद उन्हें बसों से स्टेशन पर छोड़ा जाएगा। ट्रेन फतेहपुर, कानपुर, भीमसेन, बांदा, चित्रकूट, कटनी होते हुए दुर्ग जाएगी।

छत्तीसगढ़, बिहार के कामगार बड़ी संख्या में फंसे

आपको बता दें कि अभी तक प्रयागराज से कोई भी श्रमिक स्पेशल ट्रेन नहीं चलाई  गई थीं। हालांकि चार मई को ही इसकी तैयारियों को परखा गया था। उसके बाद शहर में रह रहे प्रवासी कामगारों का सर्वे कराकर सूची बनाई गई। शहर में छत्तीसगढ़ और बिहार के कामगार बड़ी संख्या में फंसे हुए हैं। अब उन्हें उनके घर भेजा जा रहा है। जिला प्रशासन कामगारों को कर्नलगंज में रामवाटिका गेस्ट हाउस से लेकर आज खेलगांव पब्लिक स्कूल लेकर जाएगा। वहां उनके स्वास्थ्य की जांच होगी। कामगारों को खाना और पानी दिया जाएगा। उसके पश्चात बसों से सूबेदारगंज स्टेशन पर लाया जाएगा।

ट्रेन से 1800 कामगार रवाना होंगे

प्लेटफार्म नंबर-4 पर खड़ी श्रमिक स्पेशल ट्रेन में लोगों को बैठाया जाएगा। रेलवे 22 कोच की श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाएगा। ट्रेन शाम को रवाना होगी। उसमें 1800 कामगार सफर कर सकेंगे।

एनसीआर के सीपीआरओ बोले

उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अजीत कुमार ङ्क्षसह का कहना है कि सोमवार शाम को सूबेदारगंज स्टेशन से प्रयागराज से पहली श्रमिक स्पेशल ट्रेन छत्तीसगढ़ के लिए रवाना होगी।

गुजरात से दो, महाराष्ट्र से एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन पहुंची

जंक्शन पर रविवार को गुजरात से दो और महाराष्ट्र से एक श्रमिक स्पेशल ट्रेनें आईं। तीन में लगभग 4500 कामगार आए, जिनकी जांच के बाद बसों में बैठाकर उनके गृह जनपद भेज दिया गया। पहली ट्रेन महाराष्ट्र के कोपरगांव से 1169 यात्रियों को लेकर ट्रेन पहुंची। उन्हें प्लेटफार्म से आश्रय स्थल लेकर गए जहां जांच के उपरांत खाना और पानी देकर बसों से रवाना कर दिया गया। दूसरी गाड़ी सूरत से आई जिसमें 1722 यात्रियों की भी जांच के बाद बसों से भेज दिया गया। तीसरी गाड़ी के यात्रियों की जांच की कर रात में ही घर भेज दिया गया।

प्रयागराज मंडल के जनसंपर्क अधिकारी ने कहा

प्रयागराज मंडल के जनसंपर्क अधिकारी सुनील कुमार गुप्ता का कहना है कि रविवार को प्रयागराज जंक्शन पर तीन श्रमिक स्पेशल ट्रेनें आईं। सभी यात्रियों को सौ से अधिक बसों से उनके घर भेज दिया गया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021