प्रयागराज, जेएनएन। आपको तो पता ही है कि वंदे भारत एक्सप्रेस नई दिल्ली से वाराणसी के बीच चलने वाली देश की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन है। शायद यह बात आपको न पता हो कि इस वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन के संचालन का एक वर्ष पूरा हो चुका है। वंदे भारत एक्सप्रेस में यात्रियों ने जहां आधुनिक सुविधाओं का लाभ लिया, वहीं रेलवे ने 92 करोड़ 30 लाख रुपये की कमाई कर ली है।

इलाहाबाद जंक्‍शन पर यात्रियों का हुआ स्‍वागत

ट्रेन के सफल संचालन के लिए उत्तर मध्य रेलवे (एनसीआर) और उत्तर रेलवे (एनआर) के महाप्रबंधक (जीएम) ने रेलवे के अधिकारियों और कर्मचारियों को बधाई दी। साथ ही पहली वर्षगांठ होने पर इलाहाबाद जंक्शन पर प्लेटफार्म नंबर-6 पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस दौरान इस ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों का स्वागत भी किया गया।

नई दिल्ली से वाराणसी पहुंचने में आठ घंटे ही लगते हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 फरवरी 2019 को नई दिल्ली में वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। अन्य गाडिय़ां नई दिल्ली से वाराणसी पहुंचने में लगभग 12 घंटे का समय लेती हैं, जबकि वंदे भारत एक्सप्रेस आठ घंटे में पहुंच जाती है। वंदे भारत एक मात्र ऐसी ट्रेन है, जिसकी औसत गति 104 किलोमीटर प्रति घंटा है। एक साल में वंदे भारत एक्सप्रेस में 6 लाख 72 हजार यात्रियों ने सफर किया। रेलवे को 92 करोड़ 30 लाख की आमदनी हुई। इलाहाबाद जंक्शन पर प्लेटफार्म नंबर-6 पर हुए कार्यक्रम में डीआरएम अमिताभ ने ट्रेन की खूबियों से एक बार फिर सभी को अवगत कराया और ट्रेन की कमाई की जानकारी दी। इस दौरान मंडल के अधिकारियों ने चाकलेट एवं गुलाब देकर यात्रियों का स्वागत भी किया।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस