प्रयागराज, जेएनएन। पड़ोसी जनपद प्रतापगढ़ के हथिगवां इलाके में समसपुर लोहारन गांव में 65 साल रिटायर कर्मचारी धुन्नीलाल का कत्ल कर दिया गया। उनकी धारदार हथियार से हत्या की गई। सुबह चारपाई पर उनका शव देखकर लोगों ने शोर मचाया तो वहां भीड़ लगी। खबर पाकर हथिगवां समेत कई थानों की पुलिस वहां पहुंच गई। पुलिस रो-बिलख रहे परिवार के लोगों से बात कर रही है।

दूरसंचार विभाग से हुए थे रिटायर

हथिगवां थाना क्षेत्र के समसपुर लोहारन का पुरवा गांव निवासी धुन्नी लाल यादव  दूरसंचार विभाग में कर्मचारी थे। पांच वर्ष पहले वह सेवानिवृत्त होने के बाद गांव लौटे तो घर से सौ मीटर दूर बाग में एक झोपड़ी डालकर अपना जीवन यापन करने लगे। उन्होंने बाग में कुछ मवेशियों को भी पाल लिया। परिवार के लोग रोज सुबह -शाम वहीं उन्हें खाना पानी पहुंचाते थे। धुन्नीलाल के दो बेटे थे। बड़े बेटे कृष्ण स्वरूप की चार वर्ष पूर्व बीमारी से मौत हो गई थी जबकि छोटा बेटा धीरेंद्र कुमार यादव परिवार के साथ गांव में रहता है। धीरेंद्र बुधवार को गांव के एक युवक की बरात में शामिल होने के लिए प्रयागराज जनपद के सोरांव थाना क्षेत्र के शिवपुरा गांव गया था। रोज की तरह बुधवार की शाम भी धुन्नी लाल को बाग में खाना पहुंचा दिया गया था। जहां वह भोजन के बाद सो गए थे।

सुबह बहू ने देखा शव तो की चीख-पुकार

गुरुवार की सुबह धुन्नी लाल की बड़ी बहू उषा देवी बाग में पहुंची तो चारपाई पर रक्तरंजित शव देखकर चीख-पुकार की। शोर सुनकर ग्रामीण व स्वजन मौके पर पहुंचे तो धुन्नीलाल का शव चारपाई पर पड़ा था। उनके सिर पर वजनदार औजार से इस कदर वार किया गया था कि उनका सिर फट गया था। सीने पर किसी धारदार हथियार से वार किया गया था। हत्या की जानकारी मिलते ही हथिगवां पुलिस मौके पर पहुंची और उच्चाधिकारियों को इसकी सूचना दी। प्रभारी सीओ सदर पवन कुमार द्विवेदी और कुंडा कोतवाल प्रदीप कुमार भी आ गए। पुलिस ने आसपास निरीक्षण करने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। धीरेंद्र ने पुलिस को बताया कि उनके पिता का किसी से कोई विवाद नहीं था, ना ही किसी प्रकार की गांव में किसी से रंजिश थी। ऐसे में पुलिस हत्या की तह में जाने के लिए छानबीन कर रही है। करीब घंटे भर बाद अपर पुलिस अधीक्षक पश्चिमी रोहित मिश्रा भी मौके पर पहुंचे और पीड़ित परिवार से बात कर जल्द से जल्द हत्या के राजफाश करने की बात कही।

Edited By: Ankur Tripathi