प्रयागराज, जेएनएन। प्रतापगढ़ जिले के संग्रामगढ़ थाना अंतर्गत ग्राम मनोहरपुर के मजरा रामपुर डाबी में शराब पीने से चार लोगों की मौत से खलबली मची है। वहीं 11 लोग उपचाराधीन हैं। अवैध शराब की बिक्री पर एडीजी ने नवाबगंज एसओ सहित चार पुलिस कर्मियों को पहले ही निलंबित कर दिया है। अब आबकारी निरीक्षक व सिपाही को भी निलंबित किया गया है। जिलाधिकारी नितिन बंसल के मुताबिक जहरीली शराब से मौतों की पुष्टि नहीं हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। 

एक की आंखों की रोशनी चली गई, एसआरएन अस्‍पताल में है भर्ती

रविवार रात नौ बजे के आसपास शराब पीने वालों की मौत का सिलसिला शुरू हुआ था। सबसे पहले सुनीता (50) पत्नी जवाहर की मौत संग्रामगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में हुई। फिर विजय कुमार (40) और रामप्रसाद (42) ने लखनऊ में दम तोड़ दिया। सोमवार सुबह जवाहर (56) की मौत हुई। मनोहरपुर गांव निवासी बाबूलाल (50) की आंख की रोशनी चली गई है। उसे प्रयागराज के स्वरूपरानी नेहरू (एसआरएन) अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

इनका भी प्रयागराज के अस्‍पताल में चल रहा इलाज

नन्हें लाल (45), रामदेव (42), मुन्ना लाल (38), ओम प्रकाश (32), अमृत लाल (55), अमरीका (45), रामभरोसे (50) एवं मोहनलाल (48) भी प्रयागराज स्थित स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल में भर्ती कराए गए हैैं। सीतादेवी (40) व बृजलाल (48) का सीएचसी संग्रामगढ़ में इलाज चल रहा है। सभी के पेट में जलन व सीने में दर्द की समस्या है। रविवार सुबह से सभी की हालत बिगडऩे लगी थी। वह स्थानीय चिकित्सक से इलाज करा रहे थे। रात में मौतोंं से प्रशासनिक अमले में खलबली मच गई। आधी रात आइजी केपी सिंह मातहतों संग गांव पहुंचे और इलाज कराने के लिए मुनादी कराई। 

आइजी बोले कि शराब का पाउच देने वाला गिरफ्तार

सोमवार सुबह से शाम तक मनोहरपुर व आसपास पुलिस तथा आबकारी विभाग की टीमें छापेमारी करती रहीं। एडीजी प्रेम प्रकाश ने बताया कि बाबूलाल निवासी नयापुरवा, गोपालपुर थाना नवाबगंज से शराब का पाउच खरीदा गया था। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। नवाबगंज में शराब की अवैध बिक्री पर थानाध्यक्ष नवाबगंज प्रभात कुमार यादव, उपनिरीक्षक विनोद कुमार और दो बीट कांस्टेबल को निलंबित कर दिया गया है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021