प्रयागराज, जागरण संवाददाता। मालगाड़ी के लिए अलग से बन रहे रेल ट्रैक ईस्टर्न डेडीकेटेड फ्रेट कारीडोर (ईस्टर्न डीएफसी) पर तेजी से काम चल रहा है। इस रूट मंगलवार को कानपुर से सुजातपुर स्टेशन तक इलेक्ट्रिक लाइन का ट्रायल किया जाएगा। उसके बाद महीने के आखिर तक सिग्नल का ट्रायल होगा। ट्रायल सफल रहा तो नए साल में इस रूट पर मालगाड़ी का संचालन शुरू हो जाएगा।

1839 किमी का ईस्‍टर्न डीएफसी ट्रैक बनाया जा रहा है

पंजाब प्रांत के लुधियाना से पश्चिम बंगाल के दानकुनी तक 1839 किलोमीटर का ईस्टर्न डीएफसी ट्रैक बनाया जा रहा है। इसकी कवायद जोरों पर चल रही है। ईस्‍टर्न डीएफसी ट्रैक पर केवल मालगाडि़यों का ही संचालन किया जाएगा। डीएफसी के शुरू करने के अगले चरण में भाऊपुर से मुगलसराय (पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन) तक तेजी से काम चल रहा है।

कानपुर से कौशांबी के सुजातपुर तक 130 किमी ट्रैक पर ट्रायल आज

कानपुर से कौशांबी जनपद के सुजातपुर स्टेशन तक करीब 130 किलोमीटर का ट्रैक तैयार हो चुका है। मंगलवार को ओवरहेड इलेक्ट्रिक (ओएचई) का ट्रायल होगा।

डीएफसी ट्रैक पर मालगाड़ी संचालन का कार्य तेज : ईस्‍टर्न डीएफसी सीजीएम

ईस्टर्न डीएफसी के सीजीएम ओम प्रकाश का कहना है कि डीएफसी ट्रैक को तैयार करके मालगाड़ी के संचालन के लिए तेजी से काम चल रहा है। पिछले दिनों न्यू कानपुर से सुजातपुर तक पटरी का ट्रायल कर चुके हैं। अब बिजली का ट्रायल करने जा रहे हैं और महीने के अखिर में सिग्नल का ट्रायल करेंगे। उसके बाद मालगाड़ी का संचालन किया जाएगा।

Edited By: Brijesh Srivastava