प्रयागराज, जेएनएन। गणेश उत्सव की पूजा पंडालों में धूम मची है। पूजन-अर्चन के साथ आकर्षक प्रतिमा का दर्शन करने देर रात तक भीड़ जुटी रही। इसी क्रम में विघ्नहर्ता को मोदक, लाल पेड़ा और नारियल का भोग लगाया गया। भगवान गणेश के पूजन-अर्चन के लिए पंडालों में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। आचार्यों की अगुवाई में भक्तों ने पूजन किया और मुराद पूरी होने की कामना की। वहीं मूर्तियों का विसर्जन भी किया गया।

पूजन-अर्चन और दर्शन की धूम

प्राचीन श्री हरिहर बाबा मंदिर कृष्णा नगर, कीडगंज में गणपति बप्पा को लाल पेड़ा और नारियल का भोग लगाकर पूजन-अर्चन किया गया। कीडगंज में ही सिद्ध विनायक गणपति पूजा उत्सव की ओर से मोदक का भोग लगाकर आरती की गई। अलोपीबाग में महाराष्ट्र लोकसेवा पंडाल की ओर से सजाए गए पंडाल में संयोजक राजेश पुरोहित की अगुवाई में पार्वती नंदन का पूजन-अर्चन हुआ और मोदक का भोग चढ़ाया गया। सिविल लाइंस में जेड गार्डेन के पास सजे पंडाल में श्रद्धालुओं ने भगवान गणेश को प्रसाद चढ़ाकर पूजन-अर्चन किया।

गणपति बप्पा मोरया, अगले बरस फिर आना

प्रयागराज के अलावा पड़ोसी जनपद में भी कई स्थानों पर पूजा पंडालों में स्थापित गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन किया जा रहा है। मंगलमूर्ति भगवान श्रीगणेश का पूजन करने के बाद विदा किया जा रहा है। उनको अगले बरस फिर से आने का न्योता भी दिया जा रहा है। शहर से लेकर गांवों और कस्बों तक बप्पा के जयकारों की गूंज हो रही है। विसर्जन यात्रा में भक्त अबीर-गुलाल उड़ा रहे हैं। बाबागंज में सजे पंडाल के गजानन स्वरूप का विसर्जन बेल्हा देवी धाम में किया गया। युवाओं का उत्साह इेखते ही बन रहा था। श्याम बिहारी गली में स्थापित श्री गणेश प्रतिमा का विसर्जन मराठी परिवारों व भक्तों ने किया। सांगीपुर क्षेत्र के जूही शुकुलपुर में गणेश पूजा की धूम मची। पूजन के बाद उनकी धूमधाम से विदाई की गई। जिसमें अजय शुक्ल, मनीष शुक्ल, अनुज, उदय शंकर, ङ्क्षसटू तिवारी, शान्वी, सिस्टी, किट्टू शामिल रहे।

कष्ट हरते हैं गजानन

भक्ति-शक्ति और समर्पण के देवता गणेश भगवान हैं। सच्चे मन से श्रीगणेश की अराधना करनी चाहिए जिससे कष्ट व्याधि दूर हों और सुख-समृद्धि मिले। यह बातें रानीगंज में आयोजित गणेश महोत्सव में प्रयागराज से आए कथावाचक स्वामी सुदामा महाराज ने कही। उन्होंने भगवान गणेश की पूजा करने से क्या लाभ मिलता है, इसके बारे में लोगों को बताया। प्रवीणानंद महाराज और उमाशंकर ने भी विचार रखे। इस दौरान अमित मिश्रा, रौनक मिश्रा, पप्पू, राजा, रमेश मिश्र, रिकेश आदि मौजूद रहे। वहीं रानीगंज जामताली मोड़ पर पंडाल में स्थापित गणेश भगवान की प्रतिमा की सुबह-शाम आरती हो रही है।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस