प्रयागराज, जेएनएन। ब्रिटेन से दुनिया के अन्य देशों में फैले कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर प्रयागराज को भी अलर्ट मोड में रखा गया है। इससे बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से तैयारियां तेज कर दी गई है। लेवल-टू के कोविड अस्पताल बेली में इसके लिए 10 बेड का अलग वार्ड बनाया गया है। शासन की गाइडलाइन के अनुसार, 'इंटरनेशनल ट्रेवलर कोरोना वार्ड' अलग से बना दिया गया है। इस वार्ड में नए स्ट्रेन वाले संभावित संक्रमित ही भर्ती किए जाएंगे। ऑक्सीजन व नए स्ट्रेन के मद्देनजर दवाएं भी उसी अनुसार इस नए वार्ड में मुहैया कराई जा रही हैं।

स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने पहले से शुरू की तैयारी

स्ट्रेन का बढ़ते खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने पहले से ही तैयारियां शुरू कर दी है। कोरोना के नए स्ट्रेन को जिस तरह से कोरोना से काफी अधिक खतरनाक बताया जा रहा है उसी अनुसार ऑक्सीजन की अबाध सप्लाई, दवाओं की उपलब्धता, विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम व कोरोना किट से लैस कर दिया गया है। विदेश यात्रा से लौटने पर किसी में स्ट्रेन का संक्रमण होने और उसके इस वार्ड में भर्ती कराए जाने की दशा में वार्ड और इसके स्टाफ का दूसरे वार्डों से संपर्क भी पूरी तरह अलग कर दिया जाएगा।

शासन की गाइड लाइन के मुताबिक तैयारी पूरी

बेली अस्पताल की सीएमएस डॉ. किरन मलिक ने बताया कि शासन की गाइडलाइन के अनुसार तैयारी पूरी कर ली गई है। 'इंटरनेशनल ट्रेवलर कोरोना वार्ड' में एक वॉशरूम वेस्टर्न कल्चर के अनुसार बनाया गया है, जबकि एक इंडियन है। प्रयागराज में विदेश से जो भी लोग आए हैं उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव ही आई है इसलिए 'इंटरनेशनल ट्रेवलर कोरोना वार्ड'  में अभी एक भी मरीज का पंजीकरण नहीं हुआ है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021