प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज जिले में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्‍या लगातार बढ रही है। मंगलवार को सुबह से लेकर देर रात तक जिले में 199 संक्रमित मरीज मिले। वहीं दो मरीजों की इलाज के दौरान मौत भी हो गई। 54 मरीजों को अस्‍पताल से डिस्‍चार्ज किया गया। जिले में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्‍या तीन हजार के पार हो गई है।

एजेंसी के कर्मचारी को कोरोना, डूडा में खलबली

प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना के सर्वे के लिए चयनित एजेंसी के कर्मचारी को कोरोना होने से डूडा कार्यालय के अन्य कर्मी परेशान हो गए। मंगलवार को पूरे कार्यालय को सैनिटाइज कराया गया। एजेंसी का कर्मचारी जिला समंवयक के पद पर कार्यरत है। उसने 20 जुलाई को कोविड-19 की जांच करवाई थी, जिसकी रिपोर्ट सोमवार को पॉजिटिव आई। परियोजना अधिकारी वर्तिका सिंह ने बताया कि एजेंसी के सभी लोगों को कार्यालय आने से मना कर दिया गया है। कार्यालय स्टॉफ को भी कोरोना की जांच कराने के लिए कहा गया है।

दो अधिकारी पॉजिटिव, कार्यालय सील

शांतिपुरम कॉलोनी के सेक्टर ए मोहल्ले में स्थित विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता कार्यालय है। यहां तैनात अधिशासी अभियंता और विद्युत मीटर एई की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद हड़कंप मच गया है। एसडीएम अनिल चतुर्वेदी ने बताया कि अधिशासी अभियंता कार्यालय से जुड़े अधिकारी और कर्मचारियों का कोरोना चेकअप कराया जाएगा।

विकास भवन के अफसर कोरोना पाजिटिव

विकास भवन में एक महत्वपूर्ण विभाग के मुखिया कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। उनका एक स्टाफ भी पाजिटिव पाया गया है। इसके अलावा दो ब्लाकों के खंड विकास अधिकारी भी पाजिटिव मिले हैं। मंगलवार की शाम को इनकी रिपोर्ट आने के वक्त तक विकास भवन के प्रथम तल पर स्थित कार्यालय बंद हो चुके थे। सीडीओ ने संबंधित कार्यालय के साथ ही आसपास के कार्यालयों में सैनिटाइजेशन कराने के साथ सील करने के निर्देश दिए हैं। वहीं कर्मचारी नेता नरसिंह ने पूरे विकास भवन को 48 घंटे बंद रखने और सैनिटाइजेशन कराने  की मांग जिलाधिकारी से की है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप