प्रयागराज, जागरण संवाददाता। कोविड-19 महामारी की पहली और दूसरी लहर में वायरस की रफ्तार को रोक पाना आसान नहीं था। कार्य योजनाओं में स्वयं आगे रहकर बिना रुके, बिना डरे और बिना अपनी जान की चिंता किये चिकित्सकों और चिकित्साधिकारियों ने दिन रात काम किया। सैकड़ों लोगों को काल खींच ले गया लेकिन कुछ चिकित्सकों और चिकित्साधिकारियों की बदौलत लाखों लोगों की जान बची। ऐसे सभी लोगों को आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर प्रयागराज जिला प्रशासन की ओर से सम्मानित किया जाएगा।

एमएलएन मेडिकल कालेज के प्रधानाचार्य समेत ये विशिष्‍टजन होंगे सम्‍मानित

गणतंत्र दिवस के अवसर पर सम्मानित होने वालों में डा. एसपी सिंह, प्रधानाचार्य मोती लाल नेहरू मेडिकल कालेज, डा. सत्येन राय अपर मुख्य चिकित्साधिकारी राष्ट्रीय शहरी स्वास्थ्य मिशन, डा. तीरथ लाल जिला प्रतिरक्षण अधिकारी, डा. एमके अखौरी, चिकित्सा अधीक्षक तेज बहादुर सप्रू चिकित्सालय, डा. सुजीत वर्मा असिस्टेंट प्रोफेसर मोतीलाल नेहरू मेडिकल कालेज सम्‍मानित किए जाएंगे। इसी क्रम में डा. गौरव दुबे और डा. अनुपम आइ ट्रिपल सी, डा. एके तिवारी जिला सर्विलांस अधिकारी, डा. कनिका कोविन पोर्टल, डा. सुनील कुमार पांडेय चिकित्सा अधीक्षक फूलपुर, डा. विजय कुमार पाठक, चिकित्सा अधीक्षक सोरांव, डा. नवीन गिरि चिकित्सा अधीक्षक करछना, डा. तरुण पाठक चिकित्सा अधीक्षक जसरा, विनोद कुमार सिंह, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, और अमित कुमार कुशवाहा डाटा आपरेटर कोविन पोर्टल, को उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित व पुरस्कृत किया जाएगा।

अस्पताल से टीकाकरण केंद्र तक किया काम

डाक्टरों और चिकित्साधिकारियों को 73 वें गणतंत्र दिवस पर समान्नित यूं ही नहीं किया जा रहा है। इन चिकित्साधिकारियों का काम ही ऐसा रहा। इन्होंने कोविड अस्पतालों से टीकाकरण केंद्र तक खूब काम किया। इनकी बदौलत अब तक 71 लाख लोगों को टीके लगाए जा चुके हैं और इस कारण कोरोना की तीसरी लहर कहर नहीं बरपा रही है।

Edited By: Brijesh Srivastava