प्रयागराज : जगन्नाथ धाम आश्रम के शिविर में गुरुवार को मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी संतों की सभा में राम मंदिर निर्माण बनाने की ललकार के बीच सिर्फ मुस्कराते रहे। स्वामी हंसदेवाचार्य ने लगातार तीन बार जोर देकर कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनेगा ही तो योगी शांत रहे। उन्होंने अपने संबोधन में राम मंदिर निर्माण का जिक्र सीधे तो नहीं किया लेकिन इशारा किया अभी अक्षयवट खुला है आगे और भी कई बड़े कार्य होंगे। उन्होंने कहा कि कुंभ कई मायने में प्रतिष्ठित होने जा रहा है।

संतों की सभा में फिर उठी राम मंदिर की बात

सेक्टर 16 में शिविर का उद्घाटन करने के बाद सीएम योगी संतों की सभा में पहुंचे तो राम मंदिर निर्माण की बात फिर उठी। जगन्नाथ धाम आश्रम के संयोजक एवं अखिल भारतीय संत समिति के निर्देशक जगद्गुरु रामानंदाचार्य स्वामी हंसदेवाचार्य ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर उसी तरह बनेगा जैसा उसका चित्र बना है। मंदिर उसी जगह बनेगा जहां उसे बनना है।

कुंभ पुण्‍य प्रदान करने वाला आयोजन

यहां अपने पांच मिनट के संबोधन में सीएम योगी ने कुंभ को पुण्य प्रदान करने वाला आयोजन बताया। कहा कि यहां नकारात्मक ऊर्जा का क्षरण होता और सकारात्मक ऊर्जा मिलती है। इसलिए इस धरती का नाम प्रयागराज रखा गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता न्यायमूर्ति गिरिधर मालवीय ने की। इस अवसर प्रदेश सरकार के मंत्री रीता बहुगुणा जोशी, मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी, अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी, महानिर्वाणी अखाड़े के महंत रवीन्द्र पुरी, महंत राजेंद्र दास, सेवक रघुनाथ द्विवेदी, दीपक दुबे, सुरेंद्र चौधरी, सुधीर कुमार साहू आदि थे। 

सीएम ने किया कुंभ मीमांसा पुस्तक का विमोचन

जगन्नाथ धाम आश्रम शिविर में सीएम योगी ने डॉ. वंदना द्विवेदी की लिखित पुस्तक कुंभ मीमांसा पुस्तक का विमोचन किया। यह पुस्तक संस्कृत में लिखी गई है। मुख्य विकास अधिकारी मऊ आशुतोष द्विवेदी की पत्नी डॉ. वंदना अग्रसेन महिला पीजी कालेज आजमगढ़ में संस्कृत विभाग की हेड हैं।

सीएम ने वर्चुअल रिएलिटी कियोस्क का किया लोकार्पण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुंभ मेला क्षेत्र में संगम के पास अत्याधुनिक ढंग से बने खोया-पाया केंद्र तथा वर्चुअल रिएलिटी कियोस्क का लोकार्पण किया। फिर वह परेड स्थित गंगा पंडाल पहुंचे, जहां स्वच्छाग्रहियों और स्वच्छता कर्मियों को सम्मानित कर उन्हें किट प्रदान किया। इस दौरान उन्होंने सभी को स्वच्छ कुंभ और सुरक्षित कुंभ की थीम से भव्य और दिव्य कुंभ बनाने की शपथ दिलाई।

स्वच्छता का संदेश देने की अपील की

सीएम ने कहा कि तीर्थराज की धरती से पूरी दुनिया में स्वच्छता का संदेश देने के लिए सभी आगे आएं। जनसहभागिता से ही एक ऐसे कुंभ को मूर्त रूप दे सकते हैं जो देश और दुनिया से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए सकारात्मक संदेश दे। मुख्यमंत्री बोले, दो अक्टूबर 2014 को प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी की अगुवाई में पूरे देश में स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत की गई थी। इसमें उत्तर प्रदेश ने बड़ी छलांग लगाई है। बताया कि शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर शौचालय बनवाए गए। कुंभ क्षेत्र में एक लाख 22 हजार इको फ्रेंडली शौचालय व यूरिनल की व्यवस्था की गई है। इस दौरान सीएम ने संस्कृति विभाग की वेबसाइट लांच की। लघु फिल्म और कॉफी टेबल बुक का भी अनावरण किया।

मेला कार्यों का सीएम ने किया लोकार्पण

मुख्यमंत्री ने लगभग 280 करोड़ रुपये के मेला के कार्यों का लोकार्पण किया। इसके अलावा बैंक ऑफ बड़ौदा की बैंकिंग सेवाओं का लोकार्पण कर मीडिया सेंटर का भी लोकार्पण किया। फिर प्रयागराज मेला प्राधिकरण मुख्यालय में लंच किया। इसके बाद वह अरैल क्षेत्र में कला ग्राम और टेंट सिटी देखने गए। फिर हंसदेवाचार्य के शिविर का उद्घाटन किया।

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप