प्रयागराज : बीएसएनएल कर्मचारियों ने अपनी मांगों के समर्थन में प्रधान महाप्रबंधक कार्यालय पर मंगलवार को मुखर हुए। इस दौरान कर्मियों ने धरना-प्रदर्शन कर अपनी आवाज बुलंद की।

 धरना-प्रदर्शन स्थल पर हुई सभा में कर्मचारियों ने कहा कि काफी समय से पांच सूत्रीय मांगों के समर्थन में वह आंदोलित कर हरे हैं। इसके बाद भी  अभी तक कोई सकारात्मक समाधान नहीं निकल सका है। इसे लेकर एक बार फिर प्रदर्शन किया गया है। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि उनकी मांग पूरी नहीं की जाती है तो वह 14 नवंबर को विरोध स्वरूप रैली निकालेंगे।

 वेतन संशोधन, फोर-जी स्पेक्ट्रम का आवंटन, मूल वेतन पर पेंशन अंशदान आदि मांगों को लेकर कर्मचारियों ने अपनी आवाज बुलंदी की। ऑल यूनियंस एंड एसोसिएशन ऑफ बीएसएनएल के तत्वावधान में कर्मचारियों ने नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। संगठन के रफत फैजान व आरडी कुशवाहा ने आयोजित सभा में कहा कि 24 फरवरी को संचार मंत्री मनोज सिन्हा के साथ हुई बैठक में उन्होंने बीएसएनएल कर्मियों को आश्वासन दिया था। इसके बाद भी अभी तक सकारात्मक निर्णय नहीं लिया गया।

 कहा कि 30 नवंबर तक समुचित समाधान नहीं निकला तो हड़ताल पर चले जाएंगे। धरना-प्रदर्शन के दौरान अमित सिंह, रमाशंकर, डॉ. आरवीएस यादव, बलराम सिंह, राम कैलाश, आरपी यादव, दूधनाथ विश्वकर्मा, त्रिभुवन नाथ, धर्मेंद्र यादव, पंकज त्रिपाठी, चंद्रकुमार तिवारी व अन्य मौजूद रहे।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस