मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

इलाहाबाद (जागरण संवाददाता)। पाकिस्तान की सैन्य अदालत द्वारा भारतीय सैनिक कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा सुनाए जाने से लोगों में काफी आक्रोश है। कई संगठनों ने इसके विरोध में प्रदर्शन किए। साथ ही जाधव को निर्दोष बताते हुए रिहाई की मांग की। नाराज युवाओं ने पाकिस्तान का झंडा और पुतला भी जलाया।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े युवाओं ने सिविल लाइंस में सुभाष चौक पर पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन किया। नारेबाजी करते हुए कहा कि पाकिस्तान निर्दोष सैनिक को जासूसी के आरोप में फंसाकर अपनी नीयत साबित कर रहा है। यदि जाधव को फांसी दी जाती है तो पाकिस्तान को जंग के लिए भी तैयार रहना होगा। युवाओं ने पाकिस्तान का झंडा और पुतला जलाया। प्रदर्शन करने वालों में रिंकू पयासी, अंजनी शुक्ल समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: कुलभूषण जाधव को अभी नहीं दी जाएगी फांसी, अपील करने के लिए 60 दिन

उधर, विश्व हिंदू महासंघ के जिलाध्यक्ष आनंद जी पप्पन के नेतृत्व में चौक में नीम के पेड़ के नीचे विरोध प्रदर्शन हुआ। जिलाध्यक्ष ने कहा कि पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। अगर निर्दोष सैनिक को फांसी दी जाती है तो भारत पूरी शक्ति से उसका जवाब देगा। इन लोगों ने पाकिस्तान के नक्शे को आग के हवाले करके अपना विरोध जताया। प्रदर्शन में रामप्रसाद यादव, शंकरलाल कनौजिया, देवाशीष श्रीवास्तव, लता उपाध्याय, रेखा यादव, प्रदीप यादव, संजय गुप्ता समेत बड़ी संख्या में लोग शामिल रहे।

यह भी पढ़ें: कुलभूषण जाधव को कैसे मिली फांसी की सजा, जानिए पूरी कहानी...

Posted By: amal chowdhury

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप