प्रयागराज, जागरण संवाददाता। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग की ओर से लगातार कार्रवाई के बावजूद दुकानदार मिलावटी खाद्य पदार्थ बेच रहे हैं। रक्षाबंधन के आसपास लिए गए खाद्य पदार्थों के सैंपल की रिपोर्ट आ गई है। उसमें से कइयों के सैंपल फेल आये हैं। बूंदी, बेसन, पनीर सहित 16 खाद्य पदार्थों के सैंपल फेल आने पर उनसे 5.40 लाख रुपये का जुर्माना वसूला गया है।

मिलावटी खाद्य पदार्थों के खाने से लोगों को सेहत बिगड़ रही है। मिलावटी खाद्य पदार्थ बाजार में न बिके, इसलिए खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग की टीम लगातार कार्रवाई करती हैं। इसी कार्रवाई के क्रम में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के अभिहित अधिकारी ममता चौधरी के नेतृत्व में रक्षाबंधन के आसपास कई सैंपल भरे गए थे। उसमें से कुछ की रिपोर्ट आ गई है और उनके खिलाफ कोर्ट में मुकदमें भी चले। कोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान दुकानदार पेश हुए। उन दुकानदारों पर मिलावट की गंभीरता के अनुसार जुर्माना लगाया गया। 16 दुकानदारों पर 20 हजार से लेकर 65 हजार रुपये तक का जुर्माना लगाया गया है। नवंबर और दिसंबर में कुल 16 दुकानदारों से 5.40 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया।

इन खाद्य पदार्थों में हुई थी मिलावट

हीवेट रोड के दुकानदार देवीलाल की दुकान की पनीर, अहमदगंज के अजय कुमार के दुकान का साबूदाना पापड़, फाफामऊ के दुकानदार सौरभ कुमार केसरवानी का रस्क, अहमदगंज नखास कोना के दुकानदार रामकृष्ण गुप्ता की दुकान का मैदा, गौहनिया के तीरथराज कुशवाहा का मिल्क केक, मुंडेरा बाजार की किशोरी लाल केसरवानी की बूंदी, अहमदगंज के आशीष केसरवानी की किसमिस, देवली, फूलपुर के अमर बहादुर यादव का दूध, कटघर के राकेश कुमार जायसवाल का दूध, धूमनगंज के नितिन केसरवानी की नमकीन, झलवा के राजेश कुमार गुप्ता की पनीर, जारी बाजार के कुंज लाल केशरवानी का बेसन, मऊआइमा के मुमताज जाफरी की पनीर, चकनिरतुल के रामचंद्र यादव की छेना मिठाई, धूमनगंज के दिनेश केसरवानी की पनीर और चफरी निवासी मोहम्मद कैफ का खोआ मिलावटी पाया गया।

- मिलावटी खाद्य पदार्थों की बिक्री पर रोक लगाने के लिए लगातार कार्रवाई चल रही है। जो दुकानदार मिलावट कर रहे हैं उन पर भारी जुर्माना लगाया जा रहा है और दोबारा मिलावट पकड़े जाने पर जेल भेजे जाने तक की कार्रवाई करने का प्रावधान है।

- ममता चौधरी, अभिहित अधिकारी, खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन

Edited By: Ankur Tripathi