प्रयागराज, जेएनएन। हाई कोर्ट में उच्च स्तरीय बैठक के बाद अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी समेत लखनऊ से आए पांच अधिकारी और स्थानीय आला अफसर धूमनगंज थाने पहुंचे। करीब एक घंटे तक थाने में अफसरों ने तिहरे हत्याकांड में प्रगति समेत तमाम स्थानीय और कानून व्यवस्था से जुड़े अन्य मसलों पर चर्चा की।

थाने के कार्यालय का निरीक्षण किया, जीडी और अपराध रजिस्टर जांचा
गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी, सचिव गृह भगवान स्वरूप श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव न्याय आदि हाई कोर्ट से निकलने के बाद सोमवार की देर शाम बमरौली एयरपोर्ट जाते समय धूमनगंज पहुंच गए। उनके साथ डीआइजी केपी सिंह, डीएम भानुचंद्र गोस्वामी, एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पकंज भी थे। एसपी सिटी और सीओ भी आ गए। अपर मुख्य सचिव ने सबसे पहले थाने के कार्यालय का निरीक्षण किया। जीडी और अपराध रजिस्टर देखा।

पुराने आपराधिक मुकदमों में विवेचना की भी जानकारी ली
कई रजिस्टर देखने के बाद अपर मुख्य सचिव ने थाना प्रभारी विजय कुमार सिंह से 19 अगस्त की रात चौफटका में हुए तिहरे हत्याकांड में कार्रवाई की प्रगति के बारे में पूछा। उन्हें बताया गया कि नौ नामजद आरोपितों को गिरफ्तार किया जा चुका है। पुराने आपराधिक मुकदमों में विवेचना की भी जानकारी ली। फिर उन्होंने सीसीटीएनएस समेत कानून व्यवस्था और अपराध नियंत्रण से जुड़ी अन्य योजनाओं और व्यवस्था पर बात की।

बैरक और मालखाना निर्माण को बजट देने का आश्‍वासन दिया
इंस्पेक्टर ने थाने के सामने स्थित मंदिर के पीछे बैरक और मालखाना निर्माण की जरूरत बताई तो अवस्थी ने कहा कि दो महीने में इसके लिए जरूरी बजट मुहैया करा दिया जाएगा। उन्होंने धूमनगंज में प्रस्तावित थाना राजरूपपुर और थाना एयरपोर्ट के लिए भूमि मुहैया कराने का निर्देश डीएम को दिया। कुछ और मसलों पर चर्चा के बाद साढ़े सात बजे वे एयरपोर्ट रवाना हो गए।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस