प्रयागराज, जागरण संवाददाता। अब वह दिन दूर नहीं है जब कस्‍बों के बाजार भी दूधिया रोशनी से नहाएंगे। शहर की तरह कस्बों के बाजार में भी देर शाम तक व्यापारिक गतिविधि चलती रहें, इसके लिए प्रदेश सरकार ने कवायद शुरू कर दी है। बाजारों में पर्याप्त रोशनी रहे, इसके लिए प्रयास शुरू हो गया है। कस्बों के बाजारों में भी दूधिया रोशनी होगी, इसके लिए विधायकों से अपने क्षेत्र के प्रमुख बाजारों की सूची मांगी गई है। शासन को इसका संपूर्ण प्रस्ताव बनाकर भेजा जाएगा। वहां से धन आवंटित होने पर सोलर स्ट्रीट लाइटें लगाई जाएंगी।

दीनदयाल उपाध्‍याय सेलर स्‍ट्रीट लाइट ग्राम बाजार योजना

पंडित दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट लाइट ग्राम बाजार योजना के तहत कस्बे के बाजारों में दूधिया रोशनी करने की तैयारी चल रही है। इसके लिए प्रदेश के सभी जनपदों में स्थानीय विधायकों से साेलर स्ट्रीट लाइट लगाने के लिए प्रस्ताव मांगा गया है। उनके क्षेत्र में कौन-कौन से प्रमुख बाजार हैं। कहां पर सबसे पहले स्ट्रीट लाइट लगाई जा सकती है। इससे वहां की बाजार के कारोबार पर कितना प्रभाव पड़ सकता है, इसकी जानकारी नेडा इकट्ठा कर रहा है। प्रयागराज के सभी 12 विधायकों से इसके लिए नेडा ने संपर्क किया है। कई विधायकों ने इसकी सूची भी बना ली है। कुछ विधायकों के यहां सूची बनाने का काम तेजी से चल रहा है।

विधायकों के चिह्नित स्‍थान की शासन को भेजी जाएगी सूची

विधायक जो स्थान चिह्नित करेंगे, उसकी समग्र सूची बनाकर शासन को भेजी जाएगी। शासन से धन आवंटन होने पर नेडा इस काम को कराएगा। पहले चरण में प्रमुख बाजारों को दुधिया रोशनी से लैस किया जाएगा। इसके लिए एक जनपद को 130 से ज्यादा सोलर स्ट्रीट लाइटें देने की योजना है। कई जिले बड़े और छोटे हैं। उन्होंने अपने जिले की अनुसार लाइटें देने की मांग भी की है। सभी जिलों की समग्र रिपोर्ट जाने के बाद इस पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।

नेडा के परियोजना अधिकारी बोले- विधायकों से प्रमुख बाजारों की मांगी गई है सूची

नेडा के परियोजना अधिकारी मो. शाहिद सिद्दीकी का कहना है कि अभी सभी विधायकों से प्रमुख बाजारों की सूची मांगी गई है। उसे शासन को भेजा जाएगा। वहां से धन आवंटित होने पर कस्बों में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाई जाएगी।

 

Edited By: Brijesh Srivastava