हाथरस [जेएनएन]। सिकंदराराऊ कोतवाली क्षेत्र के गांव भुर्रका में सगाई के दौरान हुई हर्ष फायरिंग में  हलवाई के साथ काम करने आए युवक की मौत हो गई। गोली सिर में लगी। घटना से आक्रोशित परिजनों ने शव कासगंज रोड पर रखकर जाम लगा दिया। पुलिस दो घंटे बाद जाम खुलवा सकी। घटना के बाद सगाई समारोह में शामिल लोग भाग गए थे। पुलिस ने वहां से एक व्यक्ति को हिरासत में लिया है। पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ वर्मा मौके पर पहुंचे और कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम खुलवाया। देवेंद्र की पत्नी ने अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

तंदूर पर काम करता था युवक

घटना गुरुवार रात की है। गांव के ही लटूरी सिंह के पुत्र राकेश कुमार की सगाई का कार्यक्रम था। इसमें सिकंदराराऊ के गांव सराय निवासी हलवाई छोटेलाल पुत्र मुंशीलाल के साथ तंदूर पर काम करने मोहल्ला नौखेल निवासी 27 वर्षीय देवेंद्र उर्फ गोरेलाल गया था। सगाई समारोह के दौरान रात करीब एक बजे हर्ष फायरिंग की गई। एक गोली देवेंद्र के सिर में लगी। गोली चलाने वाला भाग गया। छोटेलाल हलवाई एवं अन्य लोग ही देवेंद्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर आए, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

कासगंज रोड पर लगाया जाम

सूचना पर देवेंद्र की पत्नी, माता-पिता तथा मोहल्ले के लोग सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर पहुंच गए। पुलिस तड़के करीब पांच बजे गांव और सीएचसी पहुंची थी मगर शव कब्जे में नहीं लिया। सुबह करीब साढ़े नौ बजे देवेंद्र के परिजन शव उठाकर कासगंज रोड पर पहुंचे और जाम लगा दिया। इसके बाद अपर पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ वर्मा मौके पर पहुंचे और कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम खुलवाया। देवेंद्र की पत्नी ने अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

हर्ष फायरिंग में हो चुके हैं अनेक हादसे

विवाह व अन्य समारोह में हर्ष फायरिंग में अनेक हादसे हो चुके हैं। बावजूद लोग सबक नहीं ले रहे हैं। यदि लोग थोड़ा सा भी जागरूक हो जाएं इस तरह के हादसे रुक सकते हैं।

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस