अलीगढ़, जागरण संवाददाता। टप्पल क्षेत्र के गांव बिरजा नगला में बुधवार को एक महिला की संदिग्‍ध हालातों में मौत हो गई। मायके पक्ष ने ससुरालियों पर पीट-पीट कर हत्या करने का आरोप लगाया है। गांव बिरजा नगला निवासी जितेंद्र की 28 वर्षीय पत्नी पूजा की तबीयत बिगड़ गई। स्वजन उसे जेवर के एक निजी अस्पताल में लेकर पहुंचे। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पूजा के भाई लोकेश निवासी नगला कलार, बन्नादेवी ने ससुरालियों पर बहन की लाठी-डंडों से पीट-पीटकर हत्या करने का आरोप लगाया है। टप्पल इंस्पेक्टर देवेंद्र कुमार ने बताया कि मामले में अभी तहरीर नहीं मिली है। हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण साफ नहीं हो सका है, विसरा सुरक्षित रख लिया गया है।

युवक ने खाया विषाक्‍त, मौत

टप्पल: थाना क्षेत्र के जट्टारी-जरतौली में एक युवक ने बुधवार को घरेलू कलह में विषाक्त पदार्थ का सेवन कर लिया। जिससे उसकी मौत हो गई। गांव निवासी 27 वर्षीय उम्मेंद सिह पुत्र परम किशोर मजदूरी करते थे। घरेलू कलह को लेकर उम्मेंद ने विषाक्त पदार्थ का सेवन कर लिया। स्वजन उपचार को लेकर जिला अस्पताल जा रहे थे। तभी उन्होंने रास्ते में दम तोड़ दिया। उम्मेंद सात भाई-बहनों में सबसे छोटे थे।

अज्ञात वाहन की टक्‍कर से युवक की मौत

अलीगढ़ की इगलास कोतवाली क्षेत्र के गांव सहारा कलां निवासी एक व्यक्ति की कस्बा में फैमिली ढाबा के समीप अज्ञात वाहन द्वारा रौंदे जाने से मौत हो गई। कोतवाली पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। बुधवार को सतेंद्र उर्फ श्याम (38) पुत्र रामचरण निवासी सहारा कला किसी काम से इगलास आया था। मध्य रात्रि में गांव लौटते समय किसी अज्ञात वाहन ने कस्बा के समीप फैमिली ढावा के सामने उसे रौंदे दिया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पर पहुँची कोतवाली पुलिस ने शव को अज्ञात के रुप में ही पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। पुलिस द्वारा शिनाख्त कराई गई। स्वजन द्वारा उसकी शिनाख्त की जा सकी। मृतक ने अपने पीछे एक बेटा मनीष, एक बेटी खुशी व पत्नी को रोते-बिलखते छोड़ा है। कोतवाल ने बताया कि घटना के संबन्ध में स्वजन द्वारा कोई तहरीर नहीं दी गई है। तहरीर मिलने पर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।