अलीगढ़: खैर के भाजपा किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष विनोद सारस्वत ने गांव भानौली मैं तैनात हल्का लेखपाल यशपाल सिंह की शिकायत एसडीएम से की है। आरोप है कि लेखपाल ने अतिवृष्टि राहत हेतु किसानों से सर्वे के नाम पर अवैध वसूली की शिकायत मिली है। विनोद सारस्वत सोमवार को किसानों के साथ तहसील में एसडीएम केबी सिंह के कार्यालय पहुंचे। राहत के नाम पर किसानों से हो रही अवैध वसूली के संबंध में नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि किसानों की फसल बेमौसम आपदा से नष्ट हुई है। ऐसी संकट के समय योगी सरकार किसानों के साथ खड़ी है लेकिन लेखपालों किसानों से अवैध वसूली कर रहे हैं। इसे भाजपा किसान मोर्चा बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने एसडीएम को बताया कि अन्य गांवों से भी इस प्रकार की शिकायतें मिल रही हैं। तुरंत दोषी लेखपालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। उन्होंने सारे प्रकरण को जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी को भी फोन पर बताया। एसडीएम ने किसानों के सर्वे के कार्य में हल्का लेखपाल को हटाकर कानूनगो द्वारा सर्वे कराने का आश्वासन दिया। भाजपा नेता ने बताया कि एसडीएम से मुलाकात के समय तहसीलदार हीरालाल सैनी भी मौजूद थे। उन्होंने एसडीएम के सामने कहा कि लेखपाल ने किसानों से रुपये मांगे थे लेकिन किसी भी किसान ने रुपये दिए नही हैं। लेखपाल पर रुपये लेने का आरोप गलत है। इस बारे में एसडीएम ने बताया कि भाजपा नेता की शिकायत की जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान भाजपा के मंडल अध्यक्ष देहात खैर रविद्र शर्मा, किसान मोर्चा गौमत के मंडल अध्यक्ष प्रशांत गौड़, ललित पाठक, सूरजपाल पाल सिंह के अलावा गांव भानौली के काफी किसान मौजूद थे।

परिक्रमा मार्ग पर अवैध कब्जे

की एटा सांसद से शिकायत

दादों : क्षेत्र के गांव खिरीरी मस्तीपुर निवासी बालमुकुंद, विजेंद्र सिंह आदि ने एटा सांसद राजवीर सिंह राजू भैया से मिलकर परिक्रमा मार्ग पर अवैध कब्जे की शिकायत की हैं। उन्होंने बताया कि गाटा संख्या 182 परिक्रमा मार्ग के रूप में दर्ज है, जिस पर गांव के कुछ लोग अवैध कब्जा करना चाह रहे हैं। एटा सांसद ने एसडीएम को फोन कर अवैध कब्जा रोकने को कहा है।

Edited By: Jagran